DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अरविंद केजरीवाल से नहीं मिलेगी हिमाचल सरकार

हिमाचल प्रदेश सरकार ने सोमवार को टीम अन्ना के वरिष्ठ सदस्य अरविंद केजरीवाल से तय की गई अपनी मुलाकात रद्द कर दी है।    
  
केजरीवाल की ओर से हिमाचल प्रदेश में बनाए गए लोकायुक्त विधेयक की आलोचना किए जाने के कारण राज्य सरकार ने उनसे मिलने का कार्यक्रम रद्द करने का फैसला किया है। रेमन मैग्सेसे अवॉर्ड से नवाजे जा चुके अरविंद केजरीवाल ने भाजपा के बारे में बयान दिया था कि ऐसा लगता है कि कानून के मामले में भगवा पार्टी और कांग्रेस का रुख एक जैसा ही है।
  
केजरीवाल ने हिमाचल के लोकायुक्त विधेयक को बहुत की कमजोर और निष्प्रभावी करार दिया था और यह भी सवाल किया था कि राज्य में इस तरह का विधेयक लाकर क्या भाजपा उत्तराखंड में भाजपा नीत तत्कालीन सरकार की ओर से इसी साल लाए गए मजबूत विधेयक को अस्वीकार कर रही है।
  
भारतीय राजस्व सेवा के पूर्व अधिकारी केजरीवाल ने कहा था विधेयक बहुत ही कमजोर और निष्प्रभावी है और इसमें भ्रष्ट लोगों को सजा देने की बजाय उन्हें बचाने के गैर-कानूनी प्रावधान हैं। उत्तराखंड के मजबूत लोकपाल विधेयक को अपनाने की बजाय हिमाचल सरकार ने केंद्र सरकार की ओर से तैयार लोकपाल विधेयक के कई विवादित प्रावधानों को इसमें शामिल कर लिया है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अरविंद केजरीवाल से नहीं मिलेगी हिमाचल सरकार