DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आदर्श घोटाला: ED के विशेष निदेशक तलब

बंबई उच्च न्यायालय ने सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय के निदेशक को आगामी 12 मार्च को अदालत के समक्ष व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने से छूट दे दी और उनकी जगह विशेष निदेशक को स्थिति रिपोर्ट के साथ उपस्थित होने को कहा। उस रिपोर्ट में बताने को कहा गया है कि आदर्श सोसाइटी घोटाले की जांच में एजेंसी ने क्या कदम उठाए गए हैं।

न्यायमूर्ति पीबी मजूमदार और न्यायमूर्ति आर डी धानुक की पीठ ने गत 28 फरवरी को गंभीर चूक और धन शोधन के लिए सोसाइटी के सदस्यों के खिलाफ जांच शुरू करने में विफल रहने के लिए जांच एजेंसी को फटकार लगाई थी और आगामी 12 मार्च को प्रवर्तन निदेशालय के निदेशक को तलब किया था।

जांच एजेंसी ने बाद में एक आवेदन दायर किया जिसमें अदालत से अपने आदेश में संशोधन करने और विशेष निदेशक या संयुक्त निदेशक को दी गई तारीख पर अदालत के समक्ष उपस्थित होने की अनुमति दी जाए।

प्रवर्तन निदेशालय की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता आर वी देसाई ने अदालत से कहा कि एजेंसी जांच से पीछे नहीं हट रही है और जांच के बारे में सूचित करने के लिए विशेष निदेशक या संयुक्त निदेशक अदालत के समक्ष उपस्थित होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आदर्श घोटाला: ED के विशेष निदेशक तलब