DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फ्रांस का माली में सैन्य दखल से इंकार

फ्रांसीसी विदेश मंत्री एलेन जुपे ने माली में तख्तापलट के बाद वहां सैन्य दखल की सम्भावनाओं से इंकार किया है। उन्होंने फ्रांसीसी नागरिकों से माली छोड़ देने के लिए कहा है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक माली के राष्ट्रपति अमादौउ तौमानी तौरे को 22 मार्च को सैन्य तख्तापलट में उनके पद से बेदखल कर दिया गया था। विद्रोही सैनिकों का आरोप था कि माली की सरकार आतंकवादियों से निपटने में विफल रही है। तख्तापलट के एक महीने बाद 29 अप्रैल को यहां राष्ट्रपति चुनाव होंगे।

फ्रांस के बीएफएमटीवी के मुताबिक जुपे ने कहा कि फ्रांस माली में सैन्य दखल नहीं करेगा। फ्रांसीसी सैनिकों को माली भेजने का कोई सवाल ही नहीं है। उन्होंने कहा कि फ्रांस सरकार अफ्रीकी देश माली में स्थिरता लाने के लिए उसे रसद व प्रशिक्षण सम्बंधी मदद देने के लिए तैयार है।

जुपे ने कहा कि स्थिति खतरनाक है। इसलिए हमने अपने नागरिकों से माली छोड़ देने के लिए कहा है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फ्रांस का माली में सैन्य दखल से इंकार