DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सर्दियों में चटपटी हुई दिल्ली

चटोरी दिल्ली की चटपटी चाट को चखने की चाहत घुमाते-घुमाते चांदनी चौक की गलियों तक ले जाती है।  राजधानी के रूप में दिल्ली के 100 वर्ष पूरा करने पर दिल्ली में कई फूड फेस्टिवल्स हो रहे हैं। इस मौके पर आयोजित कार्यक्रमों पर सत्य सिंधु का आलेख

वसंत सिन्हा एक परांठे की दुकान पर गोभी परांठे का लुत्फ उठा रहे हैं, लेकिन उनकी बेटी बार-बार सामने की दुकान ‘कुल्फी वाला’ के पास चलने की जिद कर रही है। वसंत अभी एक और परांठा खाना चाहते हैं। जब बबली कुल्फी पाने की बेसब्री दिखाती है तो उसकी मां परांठे वाले से ही एक कुल्फी मंगवा देने का आग्रह करती हैं, ताकि उनका पराठे का जायका खराब न हो। कुछ ही पल में तीनों वहां से निकलते हैं और टहलते-टहलते पास की एक दुकान पर रुकते हैं, जहां ‘दौलत की चाट’ यानी दूध वाली चाट मिलती है। पूछने पर वसंत बताते हैं, भई जब राजौरी गार्डन से फूड फेस्टिवल में आए हैं तो जी भरके खाने का आनन्द तो उठाना ही है। चारों तरफ अलग-अलग जायके की दुकानों के बीच खड़े वसंत, उनकी पत्नी और बबली के चेहरे पर उत्सव का आनन्द स्पष्ट झलक रहा था और ऐसी खुशी वाले चेहरे यहां चारों तरफ नजर आ रहे थे। आखिर दिल्ली टूरिज्म का फूड फेस्टिवल है। आजकल चमचे से चाट चाटने के लिए आप चांदनी चौक के अलावा राजीव चौक (कनॉट प्लेस) भी पहुंच सकते हैं।

दिल्ली की सर्दी सर चढ़ कर बोलती है, लेकिन जब बात जायके की होती है तो दिल्ली वाले सर्दियों को भी ‘परे हट’ करने में तनिक भी नहीं हिचकते। खासकर जब कोई फूड फेस्टिवल हो रहा हो तो खाने-पीने की दुकानों पर चटोरियों का जमावड़ा देखते ही बनता है। ऐसा ही नजारा आजकल राजधानी के दिल यानी कनॉट प्लेस के बाबा खड़ग सिंह मार्ग पर आयोजित फूड फेस्टिवल में देखने को मिल रहा है। दिल्ली के राजधानी बने 100 साल पूरा होने के उपलक्ष्य में दिल्ली पर्यटन द्वारा आयोजित उत्सवों में से एक ‘दिल्ली के पकवान’ आजकल दिल्ली वालों के आकर्षण का खास केन्द्र बना हुआ है। दिल्ली में इन दिनों ऐसे एक से बढ़ कर एक आयोजन शुरू हो गए हैं।

फूड फेस्टिवलों में डूबती जा रही दिल्ली के साकेत में, जहां ‘जेफरी फूड फेस्टिवल’ चल रहा है वहीं दिल्ली हाट में चल रहे ‘फेस्टिवल ऑफ इंडिया’ में भी सांस्कृतिक कार्यकमों के साथ-साथ देश के विभिन्न राज्यों के पकवान दिल्ली वालों के स्वाद में गरम मसाला का स्वाद साबित हो रहे हैं। दिल्ली के दजर्नभर स्थाई रेस्तरां विशेष पकवानों से फूड प्रेमियों को आकर्षित करने की योजना लागू करने में लगे हैं और दूसरी तरफ आईटीपीओ ने भी प्रगति मैदान में 12 से 16 मार्च तक इंटरनेशनल फूड फेस्टिवल ‘आहार’ के आयोजन की तैयारी शुरू कर दी है, जहां दुनियाभर के पकवानों का आनन्द उठाते हुए आप सर्दियों के मौसम को अलविदा कह सकेंगे।

कनॉट प्लेस में आयोजित फूड फेस्टिवल में तो दिल्ली की चाट, किनारी बाजार की दौलत की चाट, रुमाली रोटी के साथ वेज काठी कबाब और गली परांठे वाली के परांठे तमाम उम्र के लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं। ‘पुरानी दिल्ली की चाट’ दुकान पर बैठे पीयूष राजपूत बताते हैं, छोले-भटूरे, राजमा-राइस और मटर-कुलचे तो सदाबहार हैं ही, शाम को वेज काठी कबाब और रुमाली रोटी खाने वाले भी खूब आते हैं। ‘दौलत की चाट वाले’ दुकान पर बैठे आदेश कुमार अपनी दूध की चाट बेचते-बेचते बताते हैं, हमारी चाट तो सिर्फ सर्दियों के मौसम में ही मिलती है, जिसके लिए चाट प्रेमी किनारी बाजार(चांदनी चौक) आते हैं। दूध, क्रीम, खोया, पिस्ता और केसर से बनने वाली हमारी चाट हल्की मीठी होती है, लेकिन अब तो लोग शुगर फ्री चाट खाने भी आते हैं। अगर आप दक्षिण दिल्ली में हैं और नॉनवेज के शौकीन हैं तो साकेत के सेलेक्ट सिटी वॉक में आयोजित जेफरी फूड फेस्टिवल भी आपका मन मोह सकता है। 18 दिसम्बर तक चलने वाले इस फेस्टिवल में गर्मा-गर्म लजीज पकवान तो मिलेंगे ही, चिकन कॉडरेन ब्लू, हवाइन चिकन स्टेक, ग्रिल्ड पोर्क चॉप्स आदि आइटम का स्वाद भी आपका जायका बना सकता है।

स्थाई फूड सेंटर्स हैं सदा के लिए
फूड फेस्टिवल, 18 दिसम्बर तक, दोपहर 12 से रात 11.30 बजे तक, इडेसिया, क्राउन प्लाजा टुडे, कम्युनिटी सेंटर, ओखला फेज-1

थाई फैस्टा, 31 दिसम्बर तक, प्रात: 11 से रात 11 बजे तक, यो चाइना, द ग्रेट इंडिया पैलेस, सेक्टर-38, नोएडा।

क्रिसमस ट्रीट्स गैलोर, 31 दिसम्बर तक, दोपहर 12.30 से रात 11.30 बजे तक, वेस्टिन गुड़गांव, महात्मा गांधी रोड, गुड़गांव रोड।

फ्लेवर ऑफ द मंथ, 31 दिसम्बर तक, प्रात: 11 से रात 10 बजे तक, सभी जिलैटो इटैलियन आउटलेट्स पर।

न्यू स्नैक्स मेन्यू लंच, 20 दिसम्बर तक, दोपहर 12 से रात 11.30 बजे तक, न्यू टाउन कैफे, पार्क प्लाजा होटल, बी ब्लॉक, सुशांत लोक, फेज 2

टेम्पटिशियस मील्स फूड फेस्टिवल, अल लाउंज बार, सिटी स्क्वायर मॉल, राजाैरी गार्डन।मत चूकें इस फूड फेस्टिवल में जाना

एक दौर था, जब लजीज व्यंजन को खाने के लिए ज्यादा जेब ढीली नहीं करनी पड़ती थी। दिल्ली के बतौर राजधानी 100 वर्ष पूरे करने के उपलक्ष्य में हिंदुस्तान टाइम्स ने उन्हीं दिनों को याद करने के लिए दिल्ली 100 फूड फेस्टिवल का आयोजन किया। यह कार्यक्रम 31 दिसंबर तक चलेगा। ज्यादा जानकारी के लिए लॉग ऑन करें  www.hindustantimes /delhi100foodfestival.com

तमाम राज्यों के व्यंजन हैं यहां
दिल्ली पर्यटन के प्रबंधक (जनसंपर्क) सुधीर सोबती बताते हैं, ‘दिल्ली के पकवान’ का आयोजन राजधानी के रूप में दिल्ली के 100 वर्ष पूरे होने के अवसर पर किया गया है। 11 दिसम्बर तक प्रात: 11 से रात के 10 बजे तक चलने वाले इस फेस्टिवल के लिए 32 फूड स्टॉल्स और 15 हैंडीक्राफ्ट स्टॉल्स लगाए गए हैं और इस फेस्टिवल में हर रोज 20-25 हजार लोग आ रहे हैं। इसके अलावा दिल्ली हाट में भी 11 दिसम्बर तक फेस्टिवल ऑफ इंडिया का आयोजन किया जा रहा है, जहां तमाम राज्यों के सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावा वहां के व्यंजनों का आनन्द उठाया जा सकता है। यहां पर उत्तर प्रदेश, बिहार के अलावा पंजाब, केरल इत्यादि के व्यंजन मौजूद हैं। एक जगह पर पूरे देश का जायका मिलने से दिल्ली वालों के लिए तो ये सर्दी सोने पर सुहागा जैसी स्थिति में है।

ध्यान दें
क्या: दिल्ली के पकवान
कब: 11 दिसंबर तक
समय: प्रात: 11 बजे से रात 10 बजे तक
कहां: इंपोरिओ कॉम्प्लेक्स, बाबा खड़क सिंह मार्ग, कनॉट प्लेस
नजदीकी मेट्रो स्टेशन: पीली लाइन पर राजीव चौक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सर्दियों में चटपटी हुई दिल्ली