DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस की हार से एफडीआई पर अनिश्चितता बढ़ी

खुदरा कंपनियों को आशंका है कि बहु-ब्रांड खुदरा कारोबार में एफडीआई पर अब जल्द अमल नहीं होगा, क्योंकि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहने से संप्रग सरकार की सुधारों को आगे बढ़ाने की क्षमता प्रभावित हुई है।

फिक्की निदेशक, खुदरा एवं उपभोक्ता उत्पाद, समीर बर्डे ने कहा कि इसकी संभावना अब ज्यादा नहीं है। उन्होंने कहा कि मौजूदा राजनैतिक हालात के बीच उन्हें अपने सहयोगी दलों से और समर्थन की जरूरत होगी।

सरकार ने 450 अरब डालर के खुदरा क्षेत्र को एकल ब्रांड खंड में 100 फीसदी एफडीआई की मंजूरी देकर विदेशी निवेश के लिए खोल दिया और बहु-ब्रांड खुदरा क्षेत्र में भी उसने 51 फीसदी एफडीआई को स्वीकृति दी है, लेकिन विपक्ष और कुछ सहयोगी दलों के भारी विरोध के चलते सरकार को यह निर्णय स्थगित रखना पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कांग्रेस की हार से एफडीआई पर अनिश्चितता बढ़ी