DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रक्षा मंत्रालय के अधिकारी की मौत में आया नया मोड़

रक्षा मंत्रालय के अधिकारी कुमार यशकर सिन्हा और उनकी पत्नी अर्चना शर्मा की मौत के दो दिन बाद भी दिल्ली पुलिस के सामने दोनों की मौत एक रहस्य बनी हुई है।
 
मृत रक्षा मंत्रालय के अधिकारी के भाई पुष्कर सिन्हा ने अनुसार, यशकर गत सप्ताह मुझसे मिलने लखनऊ आया था और मुझसे अपने काम के दबाव के बारे में मुझसे जिक्र किया था। मौत के एक दिल पहले वह अपने बहन से भी मिला था।
 
शनिवार को दिल्ली पुलिस को जांच के दौरान यशकर के हाथ से लिखा नोट मिला जिसमें दो आर्मी अधिकारियों के नामों जिक्र है जिसके उपर काम के प्रेशर डालने का आरोप उन्होंने लगाया था।
 
सूत्रों से पता चला कि उन दोनों संदिग्ध अधिकारियों को पूछताछ के लिए तलब किया गया है। यशकर के रिश्तेदारों का दावा है कि यशकर अपनी पत्नी के साथ काफी खुशीपूर्वक शादीशुदा जिंदगी जी रहा था। दोंनों के बीच किसी तरह के झगड़े की बात ही नहीं थी।
 
रिश्तेदारों का कहना है कि उनकी मौत के पीछे षडयंत्र है। इसी बीच, दिल्ली पुलिस ने यशकर के सहयोगियो से भी पूछताछ की है। कुमार यशकर सिन्हा ने रक्षा मंत्रालय के तहत एक चिकित्सा सेवा महानिदेशालय के उप निदेशक के रूप में काम किया और 30 मार्च को साउथ दिल्ली में अपने आवास में अपनी पत्नी समेत रहस्यमय परिस्थितियों में मृत पाए गए थे।
 
प्रारंभिक जांच से पता चला कि यशकर ने पहले अपने पत्नी का गला घोंटा उसके बाद खुद को आग लगाकर खुदकुशी की। लेकिन हाल में मिला हाथ से लिखा नोट इस घटना में नया मोड़ ला दिया है। दोनों की शादी सात साल पहले हुई थी पर उनके बच्चे नहीं थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रक्षा मंत्रालय के अधिकारी की मौत में आया नया मोड़