DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयकर के समक्ष एलबी सिंह हुए हाजिर, मांगे पैसे

एक ही बैंक में 100 करोड़ की नकदी रखने वाले चर्चित बीसीसीएल ठेकेदार लाल बहादुर सिंह उर्फ एलबी सिंह शुक्रवार को आयकर अधिकारियों के समक्ष हाजिर हुए। प्रकरण के विवेचनाधिकारी पटना आयकर के सहायक निदेशक (अन्वेषण) सुमन कुमार के समक्ष स्वीकार किया कि बैंकों से जब्त पैसे उनके हैं।

टैक्स कटौती के बाद भी शेष पैसा जब्त है। उन पैसों को रिलीज करें। सहायक निदेशक ने एलबी से कहा कि बैंकों के किन खाता नंबरों में कितने पैसे जमा थे, उसका ब्योरा उपलब्ध कराएं।

इससे पूर्व महानिदेशक (अन्वेषण) वाइके बत्र ने अतिरिक्त निदेशक अजीत श्रीवास्तव और सहायक निदेशक सुमन कुमार के साथ एलबी प्रकरण पर धनबाद में आगे की रणनीति बनाई। आधिकारिक बयान दर्ज कराने के लिए एलबी को नोटिस भेजने का फैसला हुआ।

इसी बीच भूमिगत एलबी सिंह गुरुवार की शाम को धनबाद पहुंचे और आयकर अधिकारियों के समक्ष कुछ बिंदुओं पर अपना बयान दिया। आज पुन: एलबी हाजिर हुए। पूर्व में जब्त पैसों को अपना मानने से इनकार करने वाले एलबी ने जांच अधिकारी को बताया कि बैंक खातों से जब्त हुए पैसे उनके व परिजनों के हैं।

विभाग ने टैक्स कटौती कर ली है। लिहाजा शेष रकम को वापस करें। उनका कारोबार प्रभावित हो रहा है। विभाग उनकी आय का एसेसटमेंट कर रहा है। एसेसमेंट के बाद अगर और टैक्स का दावा बनेगा तो वे चुकता करने को तैयार है।

एसेसमेंट की कार्यवाही लंबी चलेगी। ऐसे मे पैसों को जब्त रखने से उनकी दिक्कतें बढ़ेंगी। इस पर आयकर अधिकारियों ने जानना चाहा कि वे बताएं कि बैंक ऑफ इंडिया की ऐना व मुख्य शाखा के अलावा किन-किन बैंकों में किन नंबरों पर कितनी राशि जमा थी?

पैसों की आमद के स्त्रोत क्या थे? एलबी सिंह ने बैंक खातों के नंबर व राशि का ब्योरा लिखित रूप से मांगा गया ताकि इस संबंध में वरीय अधिकारियों को अवगत कराया जा सके। बताते चलें कि 23 नवंबर 2011 को आयकर की अन्वेषण टीम ने बैंक ऑफ इंडिया की ऐना शाखा में छापेमारी कर एलबी सिंह एंड फैमिली के दजर्नों खातों से लगभग 100 करोड़ की राशि जब्त की थी।

इसके बाद अन्य बैंक व डाकघरों में भी राशि मिली। छानबीन के क्रम में 15 करोड़ के किसान विकास पत्र के नंबर भी मिले।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आयकर के समक्ष एलबी सिंह हुए हाजिर, मांगे पैसे