DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पश्चिमी सीमा पर हालात अति संवेदनशील: चिदंबरम

देश के पश्चिमी भाग में नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हालात को अतिसंवेदनशील बताते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री पी चिदंबरम ने सोमवार को कहा कि हर हफ्ते घुसपैठ के प्रयास होते हैं। उन्होंने कहा कि लगता है कि नेपाल एवं बांग्लादेश के नये रास्ते खुल गये हैं।

चिदंबरम ने यहां आंतरिक सुरक्षा पर मुख्यमंत्रियों के सम्मेलन में कहा कि मैंने आगाह किया है कि जब भी कभी मौका मिलता है, आतंकवादी इस तरह की हरकत करने से चुकते नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि 2011 में दो बड़े आतंकवादी हमले हुए। मुंबई में जुलाई में और दिल्ली उच्च न्यायालय के पास सितंबर में। इन हमलों के सिलसिले में कई संदिग्ध गिरफ्तार किये गये हैं। हैरत में डालने वाली बात यह है कि दोनों ही मामलों के मुख्य संदिग्ध भारतीय नागरिक हैं। उन्होंने कई राज्यों में अपनी गतिविधियां चलायीं और उनमें से कई का पहले का कोई आपराधिक रिकार्ड नहीं है।

चिदंबरम ने हालांकि बताया कि 2011 के दौरान आतंकवाद के 18 मॉड्यूल ध्वस्त किये गये और 53 लोगों को गिरफ्तार किया गया। 2012 के पहले तीन महीनों में तीन मॉड्यूल ध्वस्त किये गये और 11 लोग गिरफ्तार किये गये।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पश्चिमी सीमा पर हालात अति संवेदनशील: चिदंबरम