DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चीन सीमा के आसपास प्रलय बरपा रही है वायु सेना

छोटे लेकिन बेहद सघन युद्ध की क्षमता की कड़ी जांच परख के लिए भारतीय वायु सेना पूर्वी कमान में अपना अब तक का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास कर रही है।

प्रलय नाम से यह अभ्यास आज से शुरू हो गया और अगले तीन दिन तक इसमें सुखोई 30 एमकेआई समेत वायु सेना के अनेक विमानों की गर्जना सीमा पार चीन तक सुनाई देगी। वायु सेना के सूत्रों ने बताया कि इस अभ्यास में विशेष रूप से रात के समय युद्ध लड़ने की ताकत को जांचा जा रहा है। पूर्वी कमान में सुखोई पहुंचने के बाद यह पहला युद्धाभ्यास है।

वायु सेना ने हाल के समय में पूर्वोत्तर की अनेक हवाई पट्टियों को दुरुस्त करने का अभियान छेड़ा हुआ है और इस अभ्यास में इन नई सुविधाओं की भी परख होगी। पिछले एक साल से अधिक समय से वायु सेना अपने पायलटों को संक्षिप्त घनघोर और दिन एवं रात की जंग के लिए तैयार करती रही है क्योंकि इस बात के अनुमान जाहिर किए जाते रहे हैं कि भविष्य में यदि कोई युद्ध हुआ तो वह बहुत कम समय का होने के बावजूद बेहद भीषण होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चीन सीमा के आसपास प्रलय बरपा रही है वायु सेना