DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीसीसीआई ने निम्बस से करार रद्द किया, बैंक गारंटी जब्त

भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने कड़ा रवैया अपनाते हुए भुगतान नहीं करने पर अपने प्रसारण अधिकार धारक निम्बस का अनुबंध रद्द कर दिया और बैंक गारंटी के उसके दो हजार करोड़ रुपये जब्त कर लिये।

निम्बस का अनुबंध समाप्त करने का फैसला बीसीसीआई की कार्य समिति की आपात बैठक में लिया गया, जहां सदस्य भारत की घरेलू श्रृंखला के मैचों का प्रसारण करार रद्द करने के फैसले पर सर्वसम्मत थे। निम्बस का करार तीन साल बाद समाप्त होना था।

कार्यकारी समिति के एक सदस्य ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर बताया कि सदस्य इस बात पर सर्वसम्मत थे कि जो संस्था नियमित तौर पर भुगतान के मामले में डिफाल्टर रहती है उसके साथ संबंध जारी नहीं रखा जा सकता।

निम्बस ने अक्टूबर 2009 को चार साल के लिए बीसीसीआई के साथ 2000 करोड़ रुपये का करार किया था। इस प्रसारणकर्ता ने कार्यकारी समिति की यहां होने वाली बैठक से पहले आज 24 करोड़ रुपये का भुगतान किया, लेकिन अब भी उसे 88 करोड़ रुपये का भुगतान करना है।

अधिकारी ने कहा कि एक भी श्रृंखला ऐसी नहीं हुई, जिसमें उन्होंने पूरा पैसा समय से दिया हो। एक कारण और भी है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू श्रृंखला के साथ भारत की घरेलू अंतरराष्ट्रीय प्रतिबद्धताएं भी समाप्त हो गईं।

भारत की अगली घरेलू श्रृंखला से पहले काफी समय है, इसलिए बीसीसीआई के आला अधिकारियों को लगता है कि नया प्रसारणकर्ता ढूंढने के लिए काफी समय है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बीसीसीआई ने निम्बस से करार रद्द किया, बैंक गारंटी जब्त