DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जूनियर खिलाड़ियों में प्रतिभा की कमी नहीं: नोब्स

भारत की युवा टीम जूनियर एशिया कप से भले ही बाहर हो गई हो लेकिन आस्ट्रेलियाई कोच माइकल नोब्स इससे बहुत ज्यादा निराश नहीं हैं। उनका मानना है कि युवा खिलाड़ी प्रतिभाशाली हैं और अगले साल होने वाले जूनियर विश्व कप में टीम और बेहतर कर सकती है।

भारतीय जूनियर टीम कल यहां मेजबान मलेशिया से सेमीफाइनल मुकाबले में हार कर बाहर हो गई। नोब्स ने कहा कि हमारा मुख्य लक्ष्य अब अगले साल होने वाला विश्व कप है इसलिए टीम की लंबे समय की योजना बनाई जानी अहम है।
 
उन्होंने कहा कि अगर मलेशिया टूर्नामेंट जीतना ही हमारा लक्ष्य होता तो हम इस टीम में लंदन ओलम्पिक टेस्ट प्रतियोगिता में खेलने वाले कोथाजीत सिंह, चेंगलसाना, एसके कुत्तप्पा और मनप्रीत जैसे प्रतिभाशाली खिलाड़ियों टीम में रखते लेकिन ये खिलाड़ी लंदन ओलम्पिक के बाद जूनियर टीम में खेलेंगे। नोब्स ने कहा कि हमारे जूनियर खिलाड़ियों में फिटनेस और रणनीतिक स्तर पर काफी सुधार की जरूरत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जूनियर खिलाड़ियों में प्रतिभा की कमी नहीं: नोब्स