DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भोजपुर में खुलेगा सूबे का पहला पक्षी अस्पताल

सामान्य और अप्रवासी पक्षियों के प्रेमियों के लिए खुशखबरी! भोजपुर जिले में सूबे का पहला पक्षी अस्पताल खुलेगा। मैना सुंदर दिगम्बर जैन धर्मशाला ट्रस्ट ने इसके निर्माण के लिए पहल की है।

इस चिकित्सालय में न सिर्फ घायल और बीमार पक्षियों के लिए चिकित्सा की हर सुविधा उपलब्ध होगी, बल्कि उनके बेहतर देखभाल का भी इंतजाम किया जाएगा। पक्षी चिकित्सालय को लेकर कुछ दिनों पहले दिल्ली के लालकिला स्थित लाल जैन मंदिर एवं गाजियाबाद के कविनगर स्थित महावीर पक्षी चिकित्सालय का भी ट्रस्ट के प्रतिनिधियों ने जायजा लिया था।

यहां पक्षियों के इलाज के साथ-साथ उनकी हर सुविधा का ख्याल रखा जाता है। ये दोनों पक्षी चिकित्सालय जैन समाज द्वारा संचालित हैं। भोजपुर में खुलने वाले पक्षी अस्पताल में पक्षियों के लिए गर्मी में एसी और जाड़े में हीटर युक्त कमरे की व्यवस्था की जाएगी।

ट्रस्ट के सचिव पद्मराज जैन ने बताया कि मवेशियों के लिए तो देश में कई अस्पताल हैं, लेकिन पक्षियों के लिए जैन समाज द्वारा ही दो अस्पताल संचालित हैं। कई बार पक्षियों के घायल अवस्था में पड़े रहने और उनके समुचित इलाज की कोई व्यवस्था नहीं होने के कारण उनकी मौत हो जाती थी।

कायमनगर के इलाके में साइबेरियन पक्षियों का हमेशा जमावड़ा रहता है। ऐसी स्थिति में ट्रस्ट ने अस्पताल खोलने का निर्णय लिया। चिकित्सालय के लिए अच्छे डॉक्टर और पारामेडिकल स्टाफ की तलाश की जा रही है। पक्षियों के अनुसार ही पिंजड़ों की व्यवस्था होगी।

सामान्य रूप से घायल कई पक्षियों को एक साथ रखने की सुविधाएं रहेंगी जबकि विशेष रूप से बीमार एवं घायल पक्षियों के लिए अलग इंतजाम किए जाएंगे। सुविधायुक्त अस्पताल के लिए पशुपालन विभाग और चेन्नई स्थित जीव जन्तु कल्याण बोर्ड से भी तकनीकी और आम जानकारी के टिप्स लिए जा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भोजपुर में खुलेगा सूबे का पहला पक्षी अस्पताल