DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेटेंट की जंग में एप्पल को झटका

वैश्विक पेटेंट की जंग में एप्पल को शुक्रवार को उस समय झटका लगा, जब जर्मनी की एक अदालत ने कॉपीराइट उल्लंघन से सम्बंधित एक मामले में मोटोरोला मोबिलिटी के पक्ष में फैसला दे दिया।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, जर्मनी की अदालत ने अपने फैसले में कहा कि एप्पल के आईफोन और आईपैड मोटोरोला के एक पेटेंट का उल्लंघन करते हैं और इसके  साथ ही अदालत ने आईफोन्स और 3जी सुविधा वाले आईपैड के जर्मनी में आयात पर रोक लगा दी।

मोटोरोला मोबिलिटी ने शुक्रवार को एक बयान में कहा है कि एप्पल के साथ यह विवाद मोटोरोला के उस पेटेंट को लेकर है, जो जीपीआरएस के लिए जरूरी है। यह विवाद दुनिया भर में एप्पल द्वारा पेटेंट को लेकर दायर की गई कई याचिकाओं में से एक है। मोटोरोला, लाइसेंसिंग के नियम एवं शर्तों को लेकर 2007 से ही एप्पल से बातचीत कर रहा है, और अपने वैश्विक पेटेंट विवाद को यथासम्भव जल्द से जल्द हल करने के लिए अपने प्रयास जारी रखेगा। 

एप्पल के एक प्रवक्ता ने प्रौद्योगिकी समाचार साइट आलथिंग्सडी को बताया कि हम अदालत के आदेश को लेकर अपील करने जा रहे हैं। जर्मनी में छुट्टियों में खरीददारी करने वालों को आईपैड या आईफोन पाने में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।

अदालत का यह आदेश एप्पल की यूरोपीय बिक्री कम्पनी के खिलाफ है और इसका असर केवल जर्मनी में उत्पादों की बिक्री पर है। जर्मन अदालत ने यह भी आदेश दिया है कि मोटोरोला क्षतिपूर्ति की भी हकदार है।

अमेरिकी पेटेंट विशेषज्ञ, फ्लोरियन मुलर के एक ब्लाग पोस्ट के अनुसार, एप्पल किसी उच्च न्यायालय में इस फैसले को चुनौती दे सकता है और आदेश पर रोक लगाने का अनुरोध कर सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पेटेंट की जंग में एप्पल को झटका