DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोई नहीं बदल सकता संसद की भावनाः शरद यादव

अन्ना हजारे के एक दिन के सांकेतिक अनशन के दौरान आयोजित जनसंसद में बोलते हुए जदयू के अध्यक्ष शरद यादव ने साफ किया कि लोकपाल पर जो संसद की भावना थी, वह नहीं बदली जा सकती।

उन्होंने कहा कि पिछली बार अन्ना के आंदोलन के समय जो वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने वक्तव्य दिया था और जिस पर सभी दल सहमत थे, लोकपाल बिल उसके अनुकूल ही बनेगा, उसमें से एक कौमा या फुलस्टॉप भी नहीं बदल सकता। उन्होंने कहा कि सिटीजन चार्टर, सभी कर्मचारी लोकपाल के ही अंतर्गत हो।

उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि सीबीआई सरकार के हाथ में एक ऐसी ताकत है कि उसका दुरुपयोग होता है। उन्होंने कहा कि कैश फॉर वोट मामले में जिन लोगों ने इसका खुलासा किया उसी को अंदर कर दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोई नहीं बदल सकता संसद की भावनाः शरद यादव