DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लचीलापन दिखाएं हजारे पक्ष: वर्धन

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने अन्ना हजारे के जनलोकपाल के अधिकांश बिंदुओं का समर्थन करते हुए हजारे पक्ष को नसीहत दी है कि वह मतभेद को लेकर थोड़ा लचीलापन दिखाए।

हजारे पक्ष की ओर से जंतर-मंतर पर आयोजित खुली बहस में भाग लेते हुए भाकपा नेता ए़बी़ वर्धन ने कहा कि हजारे पक्ष मतभेद को भ्रष्टाचारियों के साथ होना नहीं माने। उसे लचीलापन दिखाना चाहिए। लोकतंत्र में मतभेद हो सकते हैं, लेकिन भ्रष्टाचार मिटाना ही हम सभी का लक्ष्य होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि प्रस्तावित लोकपाल कानून के दायरे में प्रधानमंत्री हो। भ्रष्ट लोगों के लिए एजेंसी बने और मुखिया बाहर रहे, यह कैसे हो सकता है। प्रधानमंत्री के साथ ही निचले स्तर के कर्मचारियों को भी लोकपाल के दायरे में लाना चाहिए।

सीबीआई को लोकपाल के तहत लाने की पैरवी करते हुए भाकपा नेता ने कहा कि सत्ता में रहते हुए हर राजनीतिक दल ने सीबीआई का गलत इस्तेमाल किया है। ऐसे में सीबीआई को लोकपाल के दायरे में लाना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लचीलापन दिखाएं हजारे पक्ष: वर्धन