DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमित को स्वर्ण, तीन अन्य भारतीयों को कांस्य

अमित कुमार ने सीनियर एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में शनिवार को पुरुषों की 55 किग्रा फ्रीस्टाइल में स्वर्ण पदक जीता जबकि तीन अन्य भारतीय पहलवान कांस्य पदक जीतने में सफल रहे।

पिछली बार एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले अमित ने सिर में लगी चोट के बावजूद फाइनल में उत्तर कोरिया के कियोंग यांग को 1-0, 5-2 से हराकर भारत के लिए पहला स्वर्ण पदक जीता। महिलाओं के वर्ग में विनेश (51 किग्रा) और बबिता कुमारी (55 किग्रा) ने कांस्य पदक जीते। पुरुषों के वर्ग में बजरंग (60 किग्रा) ने कांसे का तमगा हासिल किया। इस तरह से आज अखाड़े में उतरने में वाले प्रत्येक भारतीय पहलवान ने पदक जीता।

अमित ने सोने का तमगा जीतने के बाद कहा कि मुझसे काफी उम्मीदें लगाई गई थी और मुझे खुशी है कि मैं पदक जीतने में सफल रहा। जब मैं मैट पर पहुंचा तो सिर की अपनी चोट के बारे में भूल गया। मैंने कियोंग की सेमीफाइनल बाउट देखी थी। मैं जानता था कि वह मेरे बायें पांव पर हमला करेगा और मैंने उसे इसका मौका नहीं दिया।

भारत ने पदक का अपना खाता तब खोला जब बिनेश ने महिलाओं के 51 किग्रा वर्ग के कांस्य पदक के मुकाबले में थाईलैंड की श्रीप्रदा थोकेउ को 1-0, 3-0 से हराया। उनकी चचेरी बहन और विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता बबिता कुमारी ने भी मंगोलिया की ब्यामबातसेरेन सुनदेव को 1-1, 3-0 से हराकर कांस्य पदक हासिल किया।

योगेश्वर दत्त की जगह टीम में शामिल किए गए बजरंग उत्तर कोरिया के हाक हवांग रियोंग से पहला मुकाबला हार गये लेकिन उन्हें रेपेचेज खेलने का मौका मिला जिसमें उन्होंने जापान के शोगो माएदा को हराकर पदक जीता। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमित को स्वर्ण, तीन अन्य भारतीयों को कांस्य