DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विमानन उद्योग के लाभ में 60 फीसदी की कमी

घरेलू विमानन कंपनियों के साथ दुनिया के अन्य देशों की एयरलाइंस कंपनियों की स्थिति भी खराब है। यह विमानन कंपनियों को हो रहे घाटे से पता चलता है।
   
वैश्विक स्तर पर विमानन कंपनियों को वर्ष 2011 की चौथी तिमाही में शुद्ध लाभ 2010 की इसी तिमाही के मुकाबले 60 प्रतिशत घटा है। यात्रियों की मांग में 5.7 प्रतिशत की वृद्धि के बावजूद कंपनियों का लाभ घटा है।
 
इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (आईएटीए) के आंकड़ों के अनुसार, ईंधन लागत बढ़ने से कंपनियों के माजिर्न पर असर पड़ा है। वैश्विक स्तर पर यात्री मांग में 5.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई लेकिन हवाई माल ढुलाई के मामले में 2011 की चौथी तिमाही में 8 प्रतिशत की गिरावट आई है।
   
आंकड़ों के अनुसार ब्राजील, चीन तथा भारत में अच्छी मांग से घरेलू यातायात जनवरी 2011 के मुकाबले 6.1 प्रतिशत बढ़ा। आईएटीए की रिपोर्ट के अनुसार 2010 की चौथी तिमाही की तुलना में 2011 की चौथी तिमाही में विमानन कंपनियों का लाभ 60 प्रतिशत घटा है। मुख्य रूप से ईंधन की लागत बढ़ने से कंपनियों के मुनाफे पर असर पड़ा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विमानन उद्योग के लाभ में 60 फीसदी की कमी