DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बजट ने हवाई यात्रा को किया और महंगा

विमान यात्रा के लिए अब जेब और ढीली करनी होगी। नए बजट प्रस्तावों के तहत सेवा कर में बढ़ोत्तरी से हवाई किराया पांच प्रतिशत तक बढ़ चुका है। इसी तरह विमान कंपनियों ने टिकट आरक्षण या फिर टिकट में बदलाव के लिए वसूले जाने वाले शुल्क में भी बढ़ोतरी कर दी है।
सरकारी विमान सेवा एयर इंडिया को छोड़कर सभी घरेलू विमान कंपननियों ने टिकट आरक्षण या फिर इसमें बदलाव करने के शुल्क में एक अप्रैल से 200 से लेकर 500 रुपए तक का इजाफा कर दिया है।

विमानन कंपनियों का कहना है कि पिछले दो महीनों में विमान ईंधन की कीमतों में दस प्रतिशत का इजाफा हो चुका है और आगे भी इसके बढ़ने की आशंका है, ऐसे में उन्हें मजबूरन शुल्क बढ़ाना पड़ रहा है। इन कंपनियों का कहना है कि अक्सर बिजनेस यात्रा करने वाले यात्री आखिरी समय में टिकट रद्द कराते हैं या बदलाव करवाते हैं, जिससे निर्धारित उड़ान में सीट खाली जाती है जो कि कंपनी के लिए नुकसान होता है। इस चलन पर रोक लगाने के लिए ही आरक्षण या फिर टिकट बदलाव शुल्क बढ़ाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बजट ने हवाई यात्रा को किया और महंगा