DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अफगानिस्तान में अरबों के निवेश पर विचार

सरकार अफगानिस्तान में इस्पात व बिजली संयंत्र, लौह अयस्क के खनन और सहायक बुनियादी ढांचे के विकास के लिए सेल के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम की 10.8 अरब डॉलर की निवेश योजना में सरकारी मदद की मांग पर विचार कर रही है।
   
इस्पात मंत्रालय में सहायक सचिव एस मछेंद्र नाथन ने स्टील गुरू द्वारा आयोजित समारोह के मौके पर संवाददाताओं से कहा, हम उनकी मांग पर विचार कर रहे हैं, हम उन्हें मदद करने की कोशिश करेंगे। फिलहाल सरकार के पास ऐसी सहायता के लिए कोई नीति नहीं है। इसलिए यह तदर्थ प्रकार की और कुछ खास चीजों के लिए हो सकती है। सेल के नेतृत्व वाले सात सदस्यों वाले कंसोर्टियम को अफगानिस्तान के हाजी गाक में तीन लौह अयस्क ब्लाकों में खनन का अधिकार मिला है। तीनों ब्लाकों में उच्च गुणवता वाला 1.28 अरब टन लौह अयस्क मिलने की संभावना है।
   
पिछले नवंबर में परियोजना के लिए बोली में कामयाबी मिलने पर सेल के अध्यक्ष सी एस वर्मा ने कहा था कि कंसोर्टियम ने 61.2 लख टन सालाना क्षमता वाले इस्पात संयंत्र की स्थापना करने की योजना बनाई है। बशर्तें अफगान सरकार कारखाने के लिए कोयले और चूना पत्थर की आपूर्ति की व्यवस्था कर दे। इस परियोजना के लिए बिजली घर और सहायक बुनियादी ढांचे आदि को मिला कर कुल 10.8 अरब डालर के निवेश का अनुमान है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अफगानिस्तान में अरबों के निवेश पर विचार