संदर्भ हो तो काम में आती है रोचकता : अनिल - संदर्भ हो तो काम में आती है रोचकता : अनिल DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संदर्भ हो तो काम में आती है रोचकता : अनिल

बॉलीवुड के अभिनेता अनिल कपूर का मानना है कि जब किसी किरदार के लिए कोई संदर्भ मौजूद रहता है तो अभिनेता के काम में रोचकता आ जाती है। अनिल, संजय गुप्ता की आने वाली फिल्म ‘शूटआउट एट वडाला’ में एक वास्तविक किरदार, सेवानिवृत्त एनकाउंटर विशेषज्ञ एसीपी आइजैक बगवान को अभिनीत कर रहे हैं।

अनिल ने बुधवार को एक साक्षात्कार में कहा कि कई बार मुझे अभिनय में चुनौती का अभाव लगने लगता है। कई बार आप ऐसे किरदार निभाते हैं जिसका कोई संदर्भ मौजूद नहीं रहता, इसलिए वह कठिन हो जाता है। लेकिन जैसा कि यह कहानी कुछ सच्ची घटनाओं पर आधारित है।

अनिल ने आगे कहा कि फिल्म के ‘डोंगरी टू दुबई’ शीर्षक पुस्तक पर आधारित होने के बावजूद, फिल्म में पुस्तक से केवल कुछ ही घटनाएं ली गई हैं। इसलिए एक अभिनेता या निर्देशक या निर्माता के रूप में आपका काम रोचक हो जाता है। मैं ऐसा नहीं कह रहा कि इससे किसी तरह की आसानी हो जाती है, लेकिन कहीं न कहीं इसे करने में मजा आता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:संदर्भ हो तो काम में आती है रोचकता : अनिल