DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्राचीन ताबूत बताएगा यीशु के दफनाने का स्थान

पुरात्तववेत्ताओं को यरूशलम में पहली शताब्दी के एक ईसाई मकबरे में अचानक एक ताबूत मिला है जिससे उनके मुताबिक यह साबित किया जा सकता है कि इसी स्थान पर यीशु मसीह को दफनाया गया था। इस ताबूत पर कुछ उकेरा गया है।

पुरात्तववेत्ताओं ने कहा कि दफनाये जाने का यह स्थल एक इमारत के नीचे है जिसका निर्माण 70 ईस्वी से पहले हुआ था। उन्होंने कहा कि ताबूत पर उकेरे गये चित्र यदि वास्तव में प्रारंभिक ईसाई काल के हैं तो इस बात की पूरी संभावना है कि यीशू के किसी प्रारंभिक शिष्य ने इसे बनाया होगा।

एक रोबोट भुजा से जुड़े रिमोट नियंत्रित कैमरे का इस्तेमाल करते हुए पुरात्तववेत्ताओं ने पाया कि चूना पत्थर से बने बक्सों में यूनानी भाषा में कुछ लिखा है जो इस बात का संकेत करता है कि डिवाइन जेहोवाह किसी को उठाये हुए हैं।

लाइवसांइस की रिपोर्ट के मुताबिक एक अन्य बक्से पर विशाल मछली का चित्र बना है। पुरात्तववेत्ताओं का मानना है कि यह चित्र जोनाह की कहानी की तरफ इशारा करता है। बाइबिल के मुताबिक जोनाह ईश्वर के एक दूत थे जिन्हें एक मछली या व्हेल ने निगल लिया और बाद में मुक्त कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्राचीन ताबूत बताएगा यीशु के दफनाने का स्थान