DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कर भुगतान पर सेवा कर विभाग से हुआ समझौता: जेट

जेट एयरवेज ने मंगलवार को कहा कि उस पर बकाया सेवा कर के भुगतान कार्यक्रम को लेकर विभाग के साथ सहमति हो गई है और विभाग ने उसके किसी बैंक खाते पर रोक की कार्रवाई नहीं की है। कंपनी ने आज कहा कि वह दो दिन में 35 करोड़ रुपये का बकाया सेवा कर अदा कर देगी।

बयान में कहा गया जेट एयरवेज आगे इस बात की पुष्टि करना चाहती है कि भुगतान कार्यक्रम पर आपस में हुई सहमति के मुताबिक सेवा कर विभाग को 35 करोड़ रुपये का भुगतान पहले ही किया जा चुका है। शेष 35 करोड़ रुपये का भुगतान 15 मार्च 2012 को कर दिया जाएगा।

देश की सबसे बड़ी विमानन सेवा कंपनी ने कहा कि भुगतान की समयसीमा आपसी सहमति से तैयार की गयी है और विभाग ने कभी उसके खाते पर कोई पाबंदी नहीं लगायी थी। विमानन कंपनी ने कहा कि सेवा कर विभाग इंटरनैशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (आईएटीए) के साथ पहले से संपर्क में था ताकि आईएटीए के जरिए जेट एयरवेज को टिकटों की वसूली का भुगतान किए जाते समय ही सेवा कर विभाग को भी कर का भुगतान कर दिया जाए।

सिंगापुर से जारी एक बयान में आईएटीए के एक अधिकारी ने कल कहा भारतीय कर विभाग ने आईएटीए को जेट एयर वेज के बकाए के सम्बन्ध में एक नोटिस भेजा था जिसमें एयरलाइन पर कर के बकाए का उल्लेखकरते हुए उसे भुगतान को लेकर आगाह किया गया था।

कानून के तहत किसी बकाए के सबंध में ऐसे तीसरे पक्ष को इस तरह का नोटिस दिया जा सकता है जो बकाएदार की किसी सम्पत्ति को संभाल रहा हो।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कर भुगतान पर सेवा कर विभाग से हुआ समझौता: जेट