DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जरदारी की यात्रा से छोटे व्यापारियों को परेशानी

पाकिस्तानी राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी की अजमेर यात्रा चाहे जो भी कूटनीतिक हलचल पैदा हो रही हो, लेकिन ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर उनके 30 मिनट के ठहराव का खामियाजा छोटे व्यापारियों को भुगतना पड़ रहा है। जरदारी प्रवास के दौरान पूरा शहर बिल्कुल बंद रहेगा।

घरेलू व विदेशी श्रद्धालुओं से हमेशा गुलजार रहने वाली अजमेर की सड़कें वीरान होंगी, क्योंकि सुरक्षा कारणों से दोपहर 12 बजे से दोपहर पांच बजे के बीच सभी दुकानें बंद रहेंगी। 

दरगाह के पास फूल की दुकान चलाने वाले 21 वर्षीय खुर्शीद आलम ने कहा, ''जरदारी की यात्रा को लेकर यह सब क्या है? हमें अपनी दुकानें पांच घंटे तक बंद रखनी होंगी। हमारे लिए यह बड़ा नुकसान है।''

रेडीमेड कपड़े बेचने वाले मोहम्मद नसरूल ने कहा, ''हमारी दुकानें जबरन बंद करवाने से भारत और पाकिस्तान के सम्बंध नहीं सुधरेंगे। मैं जरदारी की यात्रा के खिलाफ नहीं हूं, लेकिन हम आखिर नुकसान क्यों उठाएं?''

चाय की दुकान लगाने वाले असलम ने कहा, ''मुझे इस भारीभरकम दौरे का मतलब नहीं समझ में आता। जरदारी के कारण दूर-दराज से आने वाले हजारों श्रद्धालु दरगाह में प्रवेश नहीं कर पाएंगे। इन पांच घंटों के दौरान आखिर वे बेचारे क्या करेंगे?''

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जरदारी की यात्रा से छोटे व्यापारियों को परेशानी