DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जापान में बढ़ रही हिन्दी और योग के प्रति रूचि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत और जापान के संबंधों को सदियों पुराना करार देते हुए आज कहा कि जापानी लोगों में हिन्दी और योग के प्रति निरंतर रूचि बढ़ रही है।
 
मोदी ने जापान भारत फोरम की बैठक में भारत की प्रति बढी़ जिज्ञासा पर कहा कि जापानी लोगों में हिन्दी और योग के प्रति रूचि लगातार बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि मुझे एक कारोबारी ने बहुत ही सुंदर हिन्दी में चिट्ठी लिखी थी कि मैं जापान यात्रा के दौरान हिन्दी में बोलूं। मैं जापान में अपनापन देखकर हैरान हूं। मुझे यहां इतना अपनापन मिला है जो प्रधानमंत्री पद से भी बडा़ है।
 
उन्होंने कहा कि दोनों देशों ने एक और साझेदारी की है जो कागजों पर नहीं आ पायी है और दोनों के बीच आध्यात्मिक भागीदारी है। इसका प्रभाव व्यापक और दूरगामी होगा। उन्होंने जापान और भारत के संबंधों का जिक्र करते हुए कहा कि जापान में कढी़ डिश पश्चिम बंगाल से आयी है। उन्होंने अपने संबोधन में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के एक साथी से जापान में मिलने का भी उल्लेख किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जापान में बढ़ी हिन्दी और योग के प्रति रूचि