DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंडो की मार से बचने को शराबखाने में छिपे सरकोजी

अपने देशवासियों की निरंतर आलोचना का शिकार बन रहे फ्रांसिसी राष्ट्रपति निकोलस सरकोजी को जनता का कोपभाजन बनने से बचने के लिए एक शराबखाने में शरण लेनी पडी़। जब एक चुनावी सभा के दौरान शुक्रवार को सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारियों ने उन पर अंडे फेंके और जमकर नारेबाजी की। हालात यह हुए कि सरकोजी को बचकर भागना पडा़।

फ्रांस के दक्षिण-पश्चिमी बेयोन शहर में सरकोजी मतदाताओं से सीधे मुलाकात करने के लिए अपनी गाडी़ से नीचे उतरे थे तभी सैकडो की संख्या में बास्क राष्ट्रवादियों और सोशल डेमोक्रेट कार्यकर्ताओं ने उन्हें घेर लिया और उनके खिलाफ नारेबाजी करने लगे। प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान सरकोजी पर अंडे भी फेंके।

प्रदर्शनकारियों से बचने के लिए सरकोजी ने पास में बनी बार डू पैलाइस में शरण ली। सरकोजी को लगभग एक घंटे तक बार के अंदर ही रहना पडा़। इस दौरान भारी संख्या में पुलिसबल को इस इलाके में तैनात कर दिया गया था।

प्रदर्शनकारियों के इस उग्र रूप से सकते में आए सरकोजी ने इस पर गहरा अफसोस जाहिर करते हुए कहा कि मुझे यह देखकर अफसोस होता है कि सोशल डेमोक्रेट उम्मीदवार फ्रांसुआ होल्लांद से जुडे़ राजनीतिक कार्यकर्ताओं ने बास्क अलगाववादियों के साथ मिलकर मेरे मतदाताओं में दहशत पैदा करने का प्रयास किया।

उल्लेखनीय है कि फ्रांस में पिछले कुछ वक्त से आते रहे जनमत सर्वेक्षणों के नतीजों में सरकोजी को विपक्षी सोशल डेमोक्रेट खेमे के उम्मीदवार होल्लांद के मुकाबले बेहद कम मत मिलते दिखाए गए हैं। फ्रांस में इस वर्ष राष्ट्रपति चुनाव होने हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अंडो की मार से बचने को शराबखाने में छिपे सरकोजी