DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केपी के भूत से पीछा नहीं छुड़ा पा रहा इंग्लैंड

केविन पीटरसन टीम होटल में मौजूद नहीं हैं और न ही इंग्लैंड टीम के आसपास वह नजर आ रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद उनका हौव्वा टीम का पीछा छोड़ने को तैयार नहीं है।

पिछले कुछ वर्षों में टीम पर पीटरसन का इतना अधिक असर रहा है कि कमेंटेटरों से लेकर ब्रिटिश मीडिया और खिलाड़ी तक कोई भी उनके प्रभाव से दूर नहीं हो पा रहा है।

इंग्लैंड के कप्तान स्टुअर्ट ब्रॉड अफगानिस्तान के खिलाफ टीम के मुकाबले से पहले अनिवार्य प्रेस कांफ्रेंस के लिए आए तो उनसे तीसरा सवाल ही यह पूछा गया कि पीटरसन की गैरमौजूदगी में ड्रेसिंग रूम में खिलाड़ी कैसा महसूस कर रहे हैं।

ब्रॉड को संभवत: यह सवाल पसंद नहीं आया, लेकिन उन्हें इसका जवाब देना पड़ा। उन्होंने कहा कि केपी लंबे समय से हमारे साथ रहा है, लेकिन फिलहाल वह यहां नहीं है। इसलिए हमें उसी चीज के साथ आगे बढ़ना होगा जो हमारे पास है। हम 15 खिलाड़ी हैं जो इंग्लैंड का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं और इंग्लैंड की जर्सी पहनने के उत्सुक हैं। वे विश्व कप मुकाबले में चमकना चाहते हैं।

बायें हाथ के स्पिनर डैनी ब्रिग्स को भी इस दिग्गज बल्लेबाज से जुड़े सवाल का जवाब देना पड़ा जिन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ियों को उकसाने वाले एसएमएस भेजने के लिए टीम से बाहर कर दिया गया है। पीटरसन ने इन एसएमएस में टीम के अपने साथियों की आलोचना की थी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केपी के भूत से पीछा नहीं छुड़ा पा रहा इंग्लैंड