DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिका में भारतीय मूल के भाषाविद का सम्मान

भारतीय मूल के अमेरिकी प्रोफेसर डॉ. मोहम्मद जहांगीर वारसी को मिसौरी के सेंट लुईस स्थित वाशिंगटन युनिवर्सिटी के विद्यार्थियों ने 2011-12 के जेम्स ई. मैक्लियॉड फैकल्टी पुरस्कार के लिए चुना है।

इसके पहले इस पुरस्कार को फैकल्टी पुरस्कार के रूप में जाना जाता था। लेकिन इस वर्ष आर्टसाइंस काउंसिल ने इस पुरस्कार के एक सबसे बड़े समर्थक जेम्स ई मैक्लियॉड का नाम इसके साथ जोड़ने का निश्चय किया।

विद्वानों में इस पुरस्कार को बहुत प्रतिष्ठित माना जाता है और यह पुरस्कार उन लोगों को दिया जाता है, जो वाशिंगटन युनिवर्सिटी में विद्यार्थियों को सकारात्मक व गहरे शैक्षिक अनुभवों से प्रभावित करते हैं।

वारसी अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के स्वर्णपदक विजेता रहे हैं और उन्हें पश्चिम बंगाल अकादमी पुरस्कार भी प्राप्त हो चुका है। वह इस सम्मान को स्कूल काउंसिल द्वारा 16 अप्रैल को आयोजित एक समारोह में ग्रहण करेंगे। स्कूल काउंसिल, कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंसेस का पूर्व स्नातक संगठन और कार्यकारी प्रबंधन निकाय है।

वारसी को बर्कले स्थित युनिवर्सिटी ऑफ कैलीफोर्निया से 2005 में 'अनसंग हीरो' पुरस्कार और उत्तर प्रदेश हिंदी-उर्दू साहित्य पुरस्कार-2011 भी प्राप्त हो चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमेरिका में भारतीय मूल के भाषाविद का सम्मान