DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत-चीन ने सीमा मुद्दे की नई प्रणाली पर चर्चा की

भारतीय और चीनी अधिकारियों ने सीमा मुद्दे पर बनायी गई नई प्रणाली पर यहां चर्चा की। भारत चीन सीमा मामले पर विचार-विमर्श और समन्वय के लिये नई कार्य प्रणाली के पहलुओं पर भारतीय अधिकारियों के प्रतिनिधिमंडल की चीनी समकक्षों के साथ सम्पन्न दो दौर की बातचीत में चीन ने विश्वास जताया कि हाल में हुए कुछ प्रमुख समझौतों के क्रियान्वयन की दिशा में दोनों पक्ष उचित कदम उठायेंगे।

नई प्रणाली सीमाई इलाकों में शांति सुनिश्चित करने को ध्यान में रखते हुए बनायी गयी है। इस साल जनवरी में नई दिल्ली में सीमा मुद्दे पर 15वें दौर की वार्ता में इसे निरूपित किया गया। इसबीच चीनी विदेश मंत्री यांग जेइची ने कहा कि दोनों देशों को समुद्री सुरक्षा तथा सीमा तंत्र पर समझौते के क्रियान्वयन की दिशा में अच्छी पहल करनी चाहिये।

सीमा प्रणाली पर बातचीत का प्रत्यक्ष उल्लेख किये बिना उन्होंने कहा कि हमारा मानना है  हमें समुद्री सुरक्षा पर दोनों पक्षों के बीच सलाहमशविरा तथा चीन-भारत सीमा के इलाकों में शांति सुनिश्चित करने की दिशा में मिलकर काम करने सहित नेतृत्व स्तर पर हुए प्रमुख समझौतों के क्रियान्वयन के लिये सभी पहलुओं पर काफी बेहतर करने की जरूरत है।

यांग ने पिछले हफ्ते नई दिल्ली का दौरा किया और वह प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और विदेश मंत्री एस.एम. कृष्णा से मुलाकात की। उन्होंने आज यहां अपने वार्षिक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दोनों देश चाहते हैं कि द्विपक्षीय रिश्तों में सतत एवं ठोस प्रगति हो तथा आपसी विश्वास एवं सहयोग बढे़।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मैंने सभी क्षेत्रों में व्यावहारिक सहयोग बढा़ने के लिये दोनों पक्षों के बीच उच्चस्तरीय आदान-प्रदान की गति बरकरार रखने तथा दोनों पक्षों के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान के संवर्धन सहित कई पहलुओं पर अपने भारतीय समक्ष के साथ विचारों को आदान-प्रदान किया।

चीन के उत्थान से उसके पडो़सी देशों में भय उत्पन्न होने को लेकर पूछे गये सवाल पर उन्होंने कहा कि बीजिंग चाहता है कि सभी मतभेद शांतिपूर्ण तरीके से दूर हों। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि चीन के अपने पडो़सी देशों के साथ रिश्ते एक व्यापक परिप्रेक्ष्य में देखे जाने चाहिये और उनका मानना है कि आम रूझान सकारात्मक है।

यांग ने अन्य एशियाई देशों के साथ आपसी हित वाला सहयोग बढा़ने पर जोर देते हुए कहा कि अब चीन तथा अन्य एशियाई देशों के बीच रिश्ते अच्छा आकार ले रहे हैं और कई सकारात्मक पहलू सामने आये हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत-चीन ने सीमा मुद्दे की नई प्रणाली पर चर्चा की