DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हल्के-फुल्के व्यायाम में भी जिम जैसा फायदा

शारीरिक तौर पर चुस्त-दुरूस्त बने रहने की लालसा के बावजूद यदि आप जिम नहीं जा पाते हों तो अफसोस की बात नहीं। नए शोध पर यकीन करें तो आप कम समय तक लगातार हल्का-फुल्का कसरत करते हैं तो इसका भी उतना ही फल आपको मिलेगा।

कनाडा के ओंटारिया में क्वींस यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने कहा है कि कठिन व्यायाम करने वालों की तुलना में जो उस तरह से मेहनत नहीं कर पाते हैं उनमें मेटाबोलिक सिंड्रोम का जोखिम कम हो जाता है। और तो और कैलोरी भी उतनी ही खपत होगी जितना आपका कठिन व्यायाम में खत्म होता है।

कठिन व्यायाम में दौड़ना, कूदना आदि शामिल है और इसी तरह के व्यायाम का फायदा आपको लगातार टहलने और इत्मीनान से बाइक की सवारी जैसी गतिविधियों में भी मिलता है। मेटाबोलिक सिंड्रोम वाले लोगों की कमर के चर्बीदार होने की आशंका रहती है और रक्त शर्करा स्तर को नियंत्रित रखने में कठिनाई आती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हल्के-फुल्के व्यायाम में भी जिम जैसा फायदा