DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चीन पर भी पड़ी मंदी की मार

निर्यात में सतत कमी के कारण आर्थिक नरमी झेल रहे चीन ने इस वर्ष के लिये सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि दर के अनुमान को घटाकर 7.5 कर दिया है। पिछले साल आर्थिक वृद्धि दर 8 प्रतिशत थी।

पिछले सात साल में यह पहला मौका है जब आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को घटाया गया है। पिछले सात साल में वहां आर्थिक वृद्धि दर औसतन 8 प्रतिशत रही है। प्रधानमंत्री वेन जिआबाओ द्वारा चीन की संसद नेशनल पीपुल्स कांग्रेस में सोमवार को पेश सरकार के कामकाज की सालाना रिपोर्ट में आर्थिक वृद्धि के अनुमान को कम किया गया है।

वेन ने कहा कि इस वर्ष के लिये आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को कम किया गया है। यह इस बात पर जोर देता है कि सभी क्षेत्रों के लोग आर्थिक विकास के लिये अपने काम पर पूरा ध्यान दें। वेन इस साल के अंत में सेवानिवृत्त हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आर्थिक वृद्धि को ज्यादा टिकाउ तथा दक्ष बनाने की जरूरत है ताकि दीर्घकाल में उच्चस्तरीय तथा उच्च गुणवत्ता का विकास हासिल किया जा सके। पूर्व में चीन ने 12वीं पंचवर्षीय योजना (2011-15) के दौरान आर्थिक वृद्धि 7 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया था।

चीन का सकल घरेलू उत्पाद 2011 में 9.2 प्रतिशत की दर से बढ़कर 7490 अरब डॉलर रहा। इससे पूर्व 2010 में आर्थिक वृद्धि दर 10.3 प्रतिशत थी। पिछले वर्ष की चौथी तिमाही में चीन की आर्थिक वृद्धि दर 8.9 प्रतिशत रही जो सालाना आधार पर पिछली 10 तिमाही में सबसे कम है।

चीन की अर्थव्यवस्था निर्यातोन्मुख है और वैश्विक स्तर पर नरमी के कारण देश के निर्यात पर असर पड़ रहा है। इसके कारण सरकार ने आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को कम किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चीन पर भी पड़ी मंदी की मार