DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैमरन के वीटो से गठबंधन में दरार

आर्थिक मंदी से जूझ रहे यूरोप को अर्थसंकट बचाने के लिए नए प्रस्तावित समझौते पर वीटो करने के ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन के कदम से उपप्रधानमंत्री निक क्लेग खफा हो गए हैं, जिससे सत्तारूढ़ गठबंधन में दरार दिखने लगी है।

देश के प्रमुख अखबारों इंडिपेंडेंट और आब्सर्वर की खबर में उच्च पदस्थ सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि सत्तारूढ दो दलीय गठबंधन मे शामिल लिबरल डेमोक्रेट पार्टी के क्लेग का मानना है कि यह ब्रिटेन में रोजगार और आर्थिक विकास के लिए अच्छा करार नहीं है। अखबारों ने उपप्रधानमंत्री के हवाले से कहा कि इससे यूरोप में ब्रिटेन अलग-थलग पड जाएगा और यह देशिहत के लिए ठीक नहीं है।

यूरो को देश की मुद्रा के तौर पर न अपनाने वाले दस में से ब्रिटेन को छोडकर शेष नौ देश 17 सदस्यीय यूरो जोन के उस नए समझौते को तैयार करने पर सहमत हो गए, जिसमें सरकारी ऋण संकट से निपटने के लिए वित्त क्षेत्र में और गहराई से जुड़ने की बात कही गई है।

हालांकि क्लेग ने शुक्रवार को हुए इस समझौते के बाद अपने सार्वजिनक बयान में कैमरन के कदम का समर्थन करते हुए कहा था कि ब्रिटेन से यूरोपीय संघ में वाजिब मांग उठाई है और इस मुद्दे पर सत्तारूढ गठबंधन एकजुट है। क्लेग की पार्टी के पदाधिकारियों ने इस मुद्दे पर किसी तरह की टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है।

लिबरल डेमोक्रेट पार्टी के सांसद िवत्तमंत्री ने कहा श्री कैमरन पर सीधा हमला करने से बचते हुए उनके कदम की परोक्ष रुप से आलोचना की और कहा .हमारी नीित सामूिहक फैसला है लेकिन हमने खराब समझौता किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कैमरन के वीटो से गठबंधन में दरार