DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाट्रा मामलाः सीबीआई ब्रिटेन से मांगेगी जानकारी

सीबीआई ट्रकों की आपूर्ति के बदले ब्रिटेन के टाट्रा सिपोक्स यूके को सरकारी कंपनी बीईएमएल द्वारा किए गए भुगतानों की जांच कर रही है और उसकी योजना ब्रिटेन को एक न्यायिक आग्रह भेजने की है जिसमें कंपनी के वित्तीय लेनदेन और मालिकाना हक की जानकारी मांगी जाएगी।

सीबीआई सूत्रों ने बताया कि एजेंसी को संदेह है कि बीईएमएल द्वारा किए गए भुगतान वास्तव में करचोरों के पनाहगाह पहुंच गया। हालांकि उन्होंने कहा कि जांच अभी प्रारंभिक अवस्था में है।

सूत्रों ने कहा कि फिलहाल उनके एक अनुरोध पत्र ब्रिटेन भेजने की संभावना है जिसमें टाट्रा सिपोक्स यूके के वित्तीय लेनदेन की जानकारी मांगी जाएगी जिसमें वेक्ट्रा अध्यक्ष रविंदर ऋषि निदेशक रह चुके हैं।

उन्होंने कहा कि एजेंसी टाट्रा सिपोक्स यूके के साथ चेक गणराज्य स्थित टाट्रा एएस के साथ संबंध के ब्यौरे की भी मांग करेगी। सूत्रों ने कहा कि ऋषि ने किसी भी अनियमितता के आरोपों से इनकार किया है और पिछले हफ्ते सीबीआई की पूछताछ में उन्होंने सहयोग किया।

सीबीआई सूत्रों ने बताया कि जांच एजेंसी अब रक्षा मंत्रालय, बीईएमएल और सेना के अधिकारियों की भूमिका पर ध्यान दे रही है और इस सिलसिले में उनसे पूछताछ कर सकती है। उन्होंने बताया कि 1997 में टाट्रा सिपोक्स यूके ने बीईएमएल से ट्रकों की आपूर्ति का सौदा किया जो कि रक्षा खरीद के नियमों का उल्लंघन था। नियम कहते हैं कि खरीद सीधे केवल निर्माता कंपनी से की जानी चाहिए।

सीबीआई ने आरोप लगाया है कि टाट्रा सिपोक्स यूके ट्रकों की वास्तविक निर्माता नहीं है, इसलिए इस नियम का उल्लंघन किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टाट्रा मामलाः सीबीआई ब्रिटेन से मांगेगी जानकारी