DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अन्ना ने सरकार से कहा, जनलोकपाल लाओ या जाओ

गांधीवादी सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने शुक्रवार को कहा कि केंद्र सरकार यदि भ्रष्टाचार के खिलाफ जनलोकपाल विधेयक लेकर नहीं आती है तो उसे जाना पड़ेगा। इंडिया टुडे कांक्लेव में हजारे ने कहा कि उन्हें लोकपाल विधेयक या तो लाना होगा या फिर जाना होगा।

उन्होंने कहा कि यदि यह विधेयक पारित नहीं हुआ तो बड़ा जन आंदोलन छेड़ा जाएगा। उन्होंने जोर देकर कहा कि जब तक यह विधेयक पारित नहीं हो जाता तब तक उनकी लड़ाई जारी रहेगी। हजारे ने कहा कि यदि जनलोकपाल विधेयक पारित हो जाए तो संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के आधे से अधिक मंत्री जेल की सलाखों के पीछे होंगे।

उन्होंने कहा कि सूचना का अधिकार (आरटीआई) जैसे कानून लोगों को जेल नहीं भेज सकते। हजारे ने कहा कि आरटीआई से हमें सूचनाएं मिलती हैं। हमें आदर्श घोटाला, राष्ट्रमंडल खेल घोटाला आदि की जानकारी सामने आई लेकिन आरटीआई लोगों को जेल नहीं भेज सकता। इसके लिए हमें एक मजबूत लोकपाल चाहिए।

मुम्बई में उनके आंदोलन में कम संख्या में लोगों के पहुंचने के बारे में पूछे जाने पर अन्ना हजारे ने कहा कि मैं इससे सहमत नहीं हूं। भीड़ थी वहां पर। यह सब कुप्रचार था कि वहां भीड़ नहीं थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अन्ना ने सरकार से कहा, जनलोकपाल लाओ या जाओ