DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बॉलीवुड में भी बढ़ा 3डी फिल्मों का चलन

हॉलीवुड की 3डी फिल्मों के जबरदस्त व्यवसाय करने के बाद बॉलीवुड ने भी उनका रुख किया है। पिछली 3डी फिल्मों को आशातीत सफलता न मिलने के बावजूद बॉलीवुड इस दिशा में कदम आगे बढ़ा रहा है।

इस समय 3डी फिल्मों के प्रारूप में 'डैंजरस इश्क', 'जोकर', 'एबीसीडी', 'राज 3' और 'शेर खान' हैं। 'एबीसीडी' के निर्माता रेमो डिसुजा का मानना है कि सही दिशा में प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करना महत्वपूर्ण है। उन्होंने इसके लिए 'हॉन्टेड' का उदाहरण दिया।

रेमो ने कहा कि 'हॉन्टेड' इसलिए सफल हुई क्योंकि इसे 3डी में फिल्माया गया। जबकि 'डॉन 2' और 'रा.वन' इसलिए अच्छा व्यवसाय नहीं कर सकीं क्यों उन्हें 2डी से 3डी में बदला गया था। उन्होंने कहा कि 3डी फिल्मों के निर्माण में धन के अलावा समय भी अधिक लगता है।

अक्षय कुमार एवं सोनाक्षी सिन्हा के साथ 'जोकर' बना रहे निर्देशक शिरीष कुंदर ने कहा कि 3डी में फिल्म की शूटिंग में आसान काम नहीं है। इसमें समय अधिक लगता है। हम बड़े कलाकारों का समय खराब नहीं कर सकते।

उन्होंने कहा कि इससे अच्छा 2डी से 3डी में बदलना ज्यादा आसान काम है। कुंदर ने कहा कि 3डी फिल्मों में आप ब्रैड पिट और टॉम क्रूज को नहीं देखेंगे। आप 'अवतार' जैसी फिल्मों को 3डी में देखेंगे जिसमें नए कलाकार रहते हैं।

इस बात से रेमो भी सहमति जताते हैं। लेकिन 'डैंजरस इश्क', 'राज 3' बना रहे विक्रम भट्ट इससे असहमति जताते हैं। भट्ट ने कहा कि 3डी फिल्मों का निर्देशन शानदार चीज है। मैं इमरान हाशमी, करिश्मा कपूर और बिपाशा बसु के साथ 3डी फिल्मों पर काम कर रहा हूं। मैं नहीं समझता कि बड़े कलाकार इन फिल्मों में काम नहीं करना चाहेंगे।

इन फिल्मों के निर्माण में बजट बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। कुंदर ने कहा कि नई तकनीकी को अपनाने में समय लगेगा लेकिन यह बहुत महंगा है। भट्ट भी इससे सहमति जताते हुए कहते हैं कि फिल्म की लागत का 40 फीसदी 3डी फिल्मों के निर्माण में लगता है।

भले ही 3डी फिल्मों को जबरदस्त सफलता नहीं मिली हो फिल्मकार इसके उज्जवल भविष्य के प्रति आशान्वित हैं। थियेटर में 3डी फिल्मों के लिए उपलब्ध सुविधाओं पर स्कैबल इंटरटेनमेंट के रंजीप ठाकुर कहते हैं कि वर्तमान में मल्टीप्लेक्सेज में 3डी फिल्मों के लिए दो स्क्रीन उपलब्ध हैं।

पीवीआर के मुख्यकार्यकारी अधिकारी प्रमोद अरोड़ा ने कहा कि बॉलीवुड की तुलना में हॉलीवुड की 3डी फिल्मों में लोगों को आकर्षित करने की क्षमता अधिक होती है क्योंकि उनकी विषयवस्तु अच्छी होती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बॉलीवुड में भी बढ़ा 3डी फिल्मों का चलन