Bullion Untimely strike from bullion traders today in mathura - सराफा कारोबारियों की आज से बेमियादी हड़ताल DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सराफा कारोबारियों की आज से बेमियादी हड़ताल

सराफा व्यापारियों की हत्या के तीन दिन बाद भी बदमाशों के न पकड़े जाने पर व्यापारियों और आम जनता का गम गुस्से में तब्दील हो गया है। पूरा जिला आक्रोश में है। घटना को लेकर सराफा कारोबारियों ने शुक्रवार से बेमियादी हड़ताल और उप्र सराफा कमेटी ने प्रदेश व्यापी बंद का ऐलान किया है। गुरुवार को मथुरा का सराफा और वृंदावन बाजार बंद रहा। मेघ अग्रवाल के परिजनों ने होलीगेट पर भूख हड़ताल की।

प्रकरण को लेकर गुरुवार शाम सराफा कमेटी की बैठक हुई। इसमें हत्या के खुलासे और लूट का माल बरामद न होने तक बेमियादी हड़ताल एवं शुक्रवार को नगर में वाहन रैली निकालने का निर्णय लिया गया। वहीं उप्र सराफा कमेटी ने शुक्रवार को प्रदेशव्यापी बंद की घोषणा की है। गुरुवार को भी मथुरा का सराफा, होलीगेट के आसपास की दुकानें और वृंदावन का बाजार पूरी तरह बंद रहा। देहात में सराफा कारोबारियों ने बंद रखा।

वहीं मृत व्यापारी मेघ अग्रवाल के परिजन बदमाशों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर भूख हड़ताल व आमरण अनशन की घोषणा करते हुए गुरुवार की सुबह होलीगेट पर तपती सड़क पर बैठ गए। परिजनों और अन्य व्यापारियों ने बदमाशों को एनकाउंटर और बेटे को वापस दिलाने की मांग की। उनके इस्तीफे की मांग की। धीरे-धीरे होलीगेट के आसपास के व्यापारी अपनी दुकानें बंद कर धरनास्थल पर पहुंच गए। पुलिस ने धरनास्थल के चारों ओर की सड़कों का रूट डायवर्जन कर दिया।

इस बीच सिटी मजिस्ट्रेट रामअरज यादव तीन बार मेघ अग्रवाल के परिजनों को समझाने पहुंचे, लेकिन वे नहीं माने। आखिरकार दोपहर करीब 2:20 बजे अपर जिलाधिकारी प्रशासन अजय कुमार अवस्थी और एसपी सिटी अशोक कुमार सिंह धरनास्थल पर पहुंचे और वारदात के खुलासे का आश्वासन देते हुए दो दिन का समय मांगा। अधिकारियों के आश्वासन पर मृत व्यापारी के परिजन मान गए और धरना समाप्त हो गया। इसके एक घंटे बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और पीड़ित परिवारों से उनके घर पर मुलाकात कर सांत्वना दी।

खुलासे के नजदीक पुलिस, डेढ़ दर्जन हिरासत में

पुलिस ने घटना का खुलासा तो अभी नहीं किया है, लेकिन खुलासे के नजदीक पहुंच गई है। लुटने से बचा माल बरामद कर लिया है। मैनुअल और सर्विलांस के आधार पर पुलिस को मिली जानकारी के आधार पर इस घटना में स्थानीय के साथ कुछ बाहरी शामिल बताए जा रहे हैं। करीब डेढ़ दर्जन लोगों और कुछ संदिग्धों के परिजनों को शक के आधार पर हिरासत में लिया गया है। पुलिस और एसटीएफ ने मथुरा के अलावा अलीगढ़, होडल, पलवल आदि क्षेत्रों में दबिश दी है। पता चला है कि कुछ अपराधी समूह में हैं और वे पल-पल लोकेशन बदल रहे हैं। एसएसपी ने सीमावती जनपदों को सीसीटीवी फुटेज भेजी थी। इस क्रम में गुरुवार को राजस्थान पुलिस मथुरा पहुंची। सीसीटीवी फुटेज देखी और घटनास्थल का जायजा लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bullion Untimely strike from bullion traders today in mathura