DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयडा चक्रवृद्धि ब्याज के साथ वसूलेगा बकाये की राशि

आयडा के अंतर्गत आने वाले वैसे उद्योग जो लैंड लेवी और लीज होल्ड रेंट समेत अन्य पैसे बकाया रखेंगे है, उन्हें चक्रवृद्धि ब्याज के हिसाब से पैसे जमा करना होगा। आयडा एमडी सह उपायुक्त रमेश घोलप ने गुरुवार को बताया कि जांच के क्रम में यह पता चला कि कई वर्षो से आयडा के बकाया पैसे पर ब्याज नहीं लिया जा रहा है। इन लोगों का अनुबंध निकाला गया तो पता चला कि पैसे नहीं जमा करने वालों से 15 प्रतिशत चक्रवृद्धि ब्याज के साथ पैसे लेने हैं। आयडा में लगभग 26.29 करोड़ रुपये बाकी है। इसके अलावे कई उद्योग बगैर ब्याज के पैसे जमा कराये है। उन लोगों से भी ब्याज वसूला जाएगा। आयडा आंकलन कर रहा है कि लगभग सौ करोड़ रुपये की राशि का बकाया है। उपायुक्त ने बताया कि यह मैनुअल को छोड़कर एक अप्रैल 2004 से ऑनलाइन के रेकार्ड में पता चला है। मैनुअल में भी बकाये की रकम की जांच होगी। उन तमाम बकायेदारों को नोटिस जारी किया जाएगा। रकम जमा नहीं करने वाले का एग्रिमेंट रद्द किया जाएगा। आयडा क्षेत्र में नामी-गिरामी कंपनियों के अलावे दर्जनों वैसी कंपनियां हैं, जिसके पास वर्षो से बकाया है। अवैध बूचड़खानों पर कर्रवाई के आदेश उपायुक्त रमेश घोलप ने आदित्यपुर नगर निगम क्षेत्र समेत जिले के तमाम इलाकों मे संबंधित पदाधिकारियों को अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई के आदेश दिये हैं। उपायुक्त ने कहा कि 72 घंटे का अल्टिमेटम दिया जा चुका है। एसडीओ से तमाम क्षेत्रो से अवैध बूचड़खानों की लिस्ट मांगी गई है। जिन पर कार्रवाई की जाएगी। रामनवमी के दौरान तमाम इलाको में अलर्ट उपायुक्त रमेश घोलप ने कहा कि रामनवमी के अवसर पर आपसी सौहार्द के वातावरण बना रहे इसको लेकर तमाम थाना और अंचलाधिकारियों को संवेदनशील क्षेत्रो पर नजर रखने का आदेश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Due to the arrears of arrears