DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यमुना बाढ़: गर्भवती महिला को अपने 2 बच्चों के साथ पेड़ पर गुजारनी पड़ी पूरी रात

राजधानी दिल्ली में खतरे के निशान से ऊपर बह रही यमुना के पानी से खुद को बचाने के लिए एक गर्भवती महिला और उसके परिवार को पूरी रात एक पेड़ पर बितानी पड़ी। दरअसल नई दिल्ली के उस्मानपुर इलाके में उसकी झोपड़ी पानी में डूब गई थी।

जब बाढ़ का पानी उसके घर में घुसने लगा तो डर के मारे नूरजहाँ अपने दो बच्चों को बचाने के लिए लकड़ी के ढेर के सहारे पेड़ पर चढ़ गई। जब उसका पति जहाँगीर (रिक्शा चालक) देर रात घर वापस आया, तो उसे भी पेड़ पर ही शरण लेनी पड़ी।

बाढ़ राहत कैंपों में पहुंचे अरविंद केजरीवाल, पीड़ितों से कही ये बात

एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि परिवार ने पूरी रात पेड़ पर बिताई और बुधवार सुबह 11 बजे पुलिस को फोन किया। पुलिसकर्मियों और डॉक्टरों की एक टीम मौके पर पहुंची और परिवार को दोपहर 12 बजे बचाया गया। नूरजहाँ ने कहा कि वह अपने पति को फोन नहीं कर सकी, क्योंकि वह इतनी बुरी तरह से डर गई थी कि कुछ सोचने-समझने की हालत में नहीं थी।

यमुना नदी का जलस्तर कम होना शुरू

यमुना का जलस्तर बुधवार शाम से धीरे-धीरे घटना शुरू हो गया, लेकिन नदी अभी भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। बाढ़ नियंत्रण कक्ष के अनुसार, जलस्तर दोपहर बाद दो बजे 206.60 मीटर था, जो शाम के पांच बजे घटकर 206.50 मीटर पर आ गया।

एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि जलस्तर में और गिरावट आने की संभावना है क्योंकि हरियाणा ने अब तक बड़ी मात्रा में हथिनीकुंड बैराज से पानी नहीं छोड़ा है। शाम 4 बजे हथनी कुंड बैराज से केवल 10,000 क्यूसेक पानी छोड़ा गया।

नदी सोमवार को खतरे का निशान 205.33 मीटर को पार गई। इसकी वजह से निचले इलाकों में आई बाढ़ के कारण वहां रहने वाले 15,000 से अधिक लोगों को विभिन्न सरकारी एजेंसियों द्वारा स्थापित शिविरों में स्थानांतरित किया गया है।

Delhi Flood Alert : अब से पहले भी ऐसी कई बाढ़ देख चुकी है दिल्ली

बुधवार को इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बाढ़ प्रभावित लोगों से मुलाकात की और कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि राहत सामग्री की कमी न हो।

उत्तर रेलवे के एक प्रवक्ता ने कहा कि पुराने यमुना पुल (लोहे वाला पुल) पर ट्रेनों की आवाजाही मंगलवार रात को अस्थायी रूप से बंद कर दी गई और ट्रेनों का मार्ग नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से होकर परिवर्तित किया गया। दिल्ली के अधिकारियों ने यमुना पर लोहे वाले पुल को पहले ही यातायात के लिए बंद कर दिया था। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Yamuna floods: Pregnant woman and family spend entire night perched on tree in Delhi