woman and 2 children killed due to fire in cloth shop in faridabad s dabua colony - फरीदाबाद : दुकान में लगी भीषण आग, दम घुटने से महिला व 2 बच्चों की मौत DA Image
8 दिसंबर, 2019|6:47|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फरीदाबाद : दुकान में लगी भीषण आग, दम घुटने से महिला व 2 बच्चों की मौत

फरीदाबाद की डबुआ कॉलोनी में शनिवार सुबह कपड़ों की दुकान में आग लगने के बाद दुकान के ऊपर द्वितीय तल रह रहे मकान मालिक की पत्नी और उसके दो मासूम बच्चों की मौत हो गई। यह दिल दहला देने वाली घटना उस वक्त हुई जब महिला का पति नीचे था। जिस वजह से वह सुरक्षित बच गया। फायर ब्रिगेड कर्मियों और पड़ोसियों के तमाम प्रयासों के बावजूद महिला और उसके बच्चों की जान नहीं बचाई जा सकी। 

आगजनी की यह घटना शनिवार सुबह करीब 7:00 बजे की है। फायर ब्रिगेड कर्मियों के मुताबिक, करीब 7:45 पर उन्हें डबुआ कॉलोनी में आग लगने की सूचना मिली थी। सूचना मिलते ही चार फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं। 

दिल्ली: जीवनदीप बिल्डिंग में आग लगने से मची अफरा-तफरी, 150 लोग बचाए 

कैसे लगी आग : आगजनी वाली इमारत में नीचे कपड़ों की दुकान है। प्रथम तल पर एक पांचवीं कक्षा का स्कूल चलता है। गर्मियों की छुट्टी के कारण स्कूल फिलहाल बंद है। द्वितीय तल मकान मालिक लच्छू अपने परिवार के साथ रहते थे। शनिवार सुबह उनकी पत्नी नीता, पांच वर्षीय बेटे लक्की और सात वर्षीय बेटी यसिका अपने कमरे में थे। उसी दौरान कपड़ों की दुकान में आग में लग गई। आग लगने का कारण शॉर्ट-सर्किट बताया जा रहा है। आग लगने के बाद आस-पड़ोस के लोग इकट्ठे हो गए। उन्होंने आग पर काबू पाना शुरू कर दिया। मकान मालिक तब दुकान के सामने खड़ी अपनी कार को हटाने में लग गए। उन्हें आभास भी नहीं था कि आग का खतरा द्वितीय तल पर रह रहे उनके परिवार तक पहुंच जाएगा। कुछ ही देर में धुआं द्वितीय तल पर तक पहुंच गया और कपड़ों से आग की ऊंची-ऊंची लपटें उठने लगीं। आस-पड़ोस के लोगों ने द्वितीय तल पर सीढ़ी लगाकर जाने का प्रयास भी किया। मगर, आग की लपटों और धुएं के कारण वे अंदर नहीं जा सके। किसी तरह फायर ब्रिगेड कर्मी मुंह पर गीला कपड़ा बांधकर पानी की बौछार करते हुए अंदर गए और द्वितीय तल से दोनों बच्चों और महिला को बाहर लाए। मगर, धुएं की वजह से तीनों बेहोश हो गए थे। उन्हेंं नीलम-बाटा स्थित फोर्टिस अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

इस हादसे की जानकारी मिलते ही पुलिस के अधिकारियों ने मौका मुआयना किया। वहीं एनआईटी के विधायक नगेंद्र भड़ाना भी परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे। 

आगजनी स्थल पर लगी रही भीड़ : आगजनी का पता चलने पर डबुआ कॉलोनी के विभिन्न ब्लॉकों के लोग 33 फुट सड़क पर आगजनी स्थल पर पहुंच गए। लोगों की भीड़ को देखते हुए पुलिस पीसीआर तैनात कर दी गई। डबुआ थाना एसएचओ संदीप कुमार ने बताया कि फिलहाल पोस्टमार्टम की तैयारी की जा रही है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:woman and 2 children killed due to fire in cloth shop in faridabad s dabua colony