DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › गोगी की मौत का बदला लेगा हाशिम बाबा? क्राइम ब्रांच की रिमांड में टिल्लू ताजपुरिया के कई राज खोले
एनसीआर

गोगी की मौत का बदला लेगा हाशिम बाबा? क्राइम ब्रांच की रिमांड में टिल्लू ताजपुरिया के कई राज खोले

नई दिल्ली। राजन शर्मा Published By: Praveen Sharma
Tue, 28 Sep 2021 02:11 PM
गोगी की मौत का बदला लेगा हाशिम बाबा? क्राइम ब्रांच की रिमांड में टिल्लू ताजपुरिया के कई राज खोले

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने रोहिणी शूटआउट मामले की जांच तेज कर दी है। क्राइम ब्रांच ने शूटआउट में मारे गए गैंगस्टर जितेंद्र मान गोगी के करीबी कुख्यात गैंगस्टर हाशिम बाबा को तिहाड़ जेल से रिमांड पर लिया है। क्राइम ब्रांच की टीम हाशिम बाबा से इस मामले में पूछताछ कर रही है।

जानकारी के अनुसार, गैंगस्टर हाशिम बाबा तिहाड़ की जेल नंबर-1 के हाई रिस्क वार्ड में बंद है। हाशिम से तिहाड़ जेल में बंद अन्य गैंगस्टरों की गतिविधियों के बारे में भी सवाल पूछे जा रहे हैं। हाशिम बाबा ने मंडोली जेल में बंद टिल्लू ताजपुरिया को लेकर भी कई कई अहम राज उगले हैं।

वहीं, हाशिम का बेहद करीबी गैंगस्टर शाहरुख इस वक्त जेल से बाहर है और फरार चल रहा है। जांच एजेंसियों को शक है की गोगी की मौत का बदला लेने के लिए शाहरुख बड़ी गैंगवार को अंजाम दे सकता है। शाहरुख को तिहाड़ जेल के अंदर से हाशिम बाबा ने ऑर्डर देकर दिल्ली में हाल के महीनों में ताबड़तोड़ 4 शूटआउट करवाए थे। दिल्ली पुलिस ने शाहरुख पर दो लाख रुपये का इनाम भी रखा है।

वर्चस्व की जंग : टिल्लू और गोगी गैंग की रंजिश में 24 से ज्यादा ने जान गंवाई, कई बेकसूर भी बने शिकार

बता दें कि, दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को दिनदहाड़े गैंगस्टर जितेंद्र मान गोगी की हत्या के मद्देनजर जेल अधिकारियों ने गैंगवार की आशंका जताई है, इसलिए तिहाड़ जेल, मंडोली जेल और रोहिणी जेल समेत दिल्ली की सभी जेलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

गोगी तिहाड़ जेल में बंद था और उसका प्रतिद्वंद्वी टिल्लू ताजपुरिया मंडोली जेल में है, इसलिए इन जेलों को विशेष अलर्ट पर रखा गया है। दोनों गिरोहों के कई बदमाश और शार्प शूटर भी रोहिणी जेल में बंद हैं।

गौरतलब है कि रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को दिल्ली के मोस्ट वांटेड गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की वकील के वेश में आए दो हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में दोनों हमलावर भी मारे गए थे। दोनों हमलावर टिल्लू ताजपुरिया गैंग से जुड़े हुए बताए जा रहे हैं। पुलिस ने कहा कि घटना दोपहर  करीब 1.15 बजे हुई जब गोगी को सुनवाई के लिए अदालत कक्ष संख्या 207 लाया गया और वकील की ड्रेस में आए दो गैंगस्टरों ने उस पर गोलियां चला दीं। अचानक हुई गोलीबारी के बाद कोर्ट में अफरा-तफरी मच गई। अदालत कक्ष के अंदर मौजूद लोग अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे। हमलावरों ने गोगी को करीब 10 गोलियां मारीं। पुलिस के मुताबिक, जितेंद्र मान उर्फ ​​गोगी के सिर पर 6.5 लाख रुपये का इनाम था। उसे तीन साथियों के साथ पिछले साल मार्च में स्पेशल सेल की एक टीम ने गुड़गांव से गिरफ्तार किया था। उसे कुलदीप मान उर्फ ​​फज्जा, कपिल उर्फ ​​गौरव और रोहित उर्फ ​​कोई के साथ गिरफ्तार किया गया था।  

संबंधित खबरें