ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदोबारा BJP छोड़कर जाएंगे अरविंदर सिंह लवली? दिल्ली के पूर्व मंत्री ने क्या दिया जवाब

दोबारा BJP छोड़कर जाएंगे अरविंदर सिंह लवली? दिल्ली के पूर्व मंत्री ने क्या दिया जवाब

दिल्ली की शीला दीक्षित सरकार में मंत्री रहे अरविंदर सिंह लवली एक बार फिर बीजेपी में शामिल हो चुके हैं। उन्होंने कहा है कि वह दोबारा बीजेपी छोड़कर नहीं जाएंगे। साथ ही और नेताओं के आने का दावा किया।

दोबारा BJP छोड़कर जाएंगे अरविंदर सिंह लवली? दिल्ली के पूर्व मंत्री ने क्या दिया जवाब
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 09 May 2024 12:08 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस को हाल ही में एक के बाद एक झटकते लगे। शीला दीक्षित सरकार में मंत्री रहे अरविंदर सिंह लवली ने अचानक दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष सहित सभी पदों से इस्तीफा देकर बीजेपी का दामन थाम लिया। इसके बाद पूर्व मंत्री राज कुमार चौहान, पूर्व विधायक नसीब सिंह, नीरज बसोया और अमित मलिक ने भी कांग्रेस के हाथ से नाता तोड़ लिया। दिल्ली कांग्रेस के ये चारों नेता भी बीजेपी में शामिल हो गए। 

हालांकि यह पहली बार नहीं था जब लवली कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए हों। इससे पहले 2017 में लवली बीजेपी में आए थे लेकिन 10 दिन में ही उनका मोहभंग हो गया और वे फिर कांग्रेस में शामिल हो गए। अभ उनका कहना है कि वे दोबारा बीजेपी छोड़ने की बजाए राजनीति से सन्यास ले लेंगे। दिल्ली बीजेपी हेडक्वार्टर में बुधवार को उन्होंने कहा, पिछली बार मैंने गुस्से में कांग्रेस छोड़ने का फैसला किया था, लेकिन इस बार ठंडे दिमाग और बहुत सोच-विचार के साथ यह कदम उठाया है। अब, हम या तो यहां (भाजपा में) केवल राजनीति करेंगे या पार्टी छोड़ने के बजाय पूरी तरह से राजनीति छोड़ देंगे।'

बीजेपी ने लवली को पार्टी में शामिल होने के कुछ दिनों बाद ही 40 स्टार प्रचारकों की लिस्ट में शामिल किया है। कांग्रेस में दोबारा लौटने से पहले साल 2017 में कुछ दिनों के लिए बीजेपी में शामिल होने वाले पूर्व कांग्रेस नेता ने दावा किया कि आने वाले दिनों में दिल्ली कांग्रेस में कई और लोग बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। उन्होंने कहा, 'राज कुमार चौहान उत्तर पश्चिमी दिल्ली में एक बड़े नेता हैं लेकिन उनका प्रभाव केवल यहीं तक सीमित नहीं है। इसी तरह, मेरा और नसीब सिंह का ट्रांस-यमुना क्षेत्र में प्रभाव है, जहां दो सीटें हैं। यह तो बस शुरुआत है और अगर पार्टी अनुमति देती है तो हमारे अन्य दोस्त भी आएंगे।'

लवली के साथ मौजूद प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि लवली और अन्य नेता पार्टी में अपनी भूमिका तय करने के लिए स्वतंत्र होंगे। लवली ने कहा कि किसी भी पार्टी में कार्यकर्ता की भूमिका सबसे अहम होती है और पार्टी उन्हें जो निर्देश देगी, वह उस भूमिका को निभाएंगे और पार्टी के लिए प्रचार करेंगे। वहीं इंडिया ब्लॉक पर कटाक्ष करते हुए, लवली ने दिल्ली एनसीपी अध्यक्ष और पूर्व दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष योगानंद शास्त्री के कांग्रेस में शामिल होने का जिक्र किया। उन्होंने पूछा, यह कैसा गठबंधन है?'