ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRईडी के एक भी समन पर क्यों पेश नहीं हुए केजरीवाल? आप कोर्ट को बताएगी वजह, 17 फरवरी को सीएम की पेशी

ईडी के एक भी समन पर क्यों पेश नहीं हुए केजरीवाल? आप कोर्ट को बताएगी वजह, 17 फरवरी को सीएम की पेशी

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ईडी ने पांच समन भेजे लेकिन वे एक पर भी पेश नहीं हुए। अब आप कोर्ट को इसकी वजह बताएगी। वहीं कोर्ट ने सीएम को 17 फरवरी को पेश होने का निर्देश दिया है।

ईडी के एक भी समन पर क्यों पेश नहीं हुए केजरीवाल? आप कोर्ट को बताएगी वजह, 17 फरवरी को सीएम की पेशी
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 08 Feb 2024 05:40 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को समन जारी कर 17 फरवरी को पेश होने के निर्देश दिए हैं। इस पर दिल्ली सरकार की शिक्षा मंत्री और आप नेता आतिशी ने कहा कि हम कोर्ट के आदेश का सम्मान करते हैं। इस मामले में अदालत के सामने अपना पक्ष रखेंगे और बताएंगे कि सीएम केजरीवाल ईडी के पांच समन जारी होने के बाद भी पेश क्यों नहीं हुए।

पार्टी कार्यालय में आतिशी ने कहा कि हम कोर्ट को बताएंगे कि ईडी के सभी समन गैर कानूनी है। हर समन आने के बाद केजरीवाल ने लिखित रूप से बताया कि इस समन में क्या-क्या गैरकानूनी है। ईडी से सवाल भी पूछे, लेकिन किसी भी मुद्दे पर जवाब नहीं आया। पांच चिट्ठी के बाद भी ईडी ये साबित नहीं कर पाया कि उनके समन गैरकानूनी नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हम कोर्ट को बताएंगे कि किस तरह भाजपा प्रेस कांफ्रेस कर दावा करती है कि केजरीवाल जेल जाएंगे। इसके बाद केजरीवाल को समन जारी होता है।

विधायकों को तोड़ने की कोशिश

आतिशी ने कहा, ये भी बताएंगे कि तथाकथित शराब घोटाले की जांच करीब दो साल से चल रही है। ऐसा क्या हुआ कि लोकसभा चुनाव से ठीक पहले अरविंद केजरीवाल को पूछताछ के लिए बुलाया जा रहा है। ईडी दो साल से क्यों चुप थी। अब चुनाव प्रचार का समय है तो उन्हें समन भेजा जा रहा है। आतिशी ने कहा कि अदालत को बताएंगे कि यह समन सिर्फ राजनीति से प्रेरित है। ईडी के समन के जरिए दिल्ली सरकार गिराने की कोशिश हो रही है।

केजरीवाल को कब-कब नोटिस भेजा गया

पहला समन 2 नवंबर, 2023, दूसरा 21 दिसंबर, 2023, तीसरा 3 जनवरी, 2024, चौथा 18 जनवरी, 2024 और पांचवां 2 फरवरी, 2024

कोर्ट के फैसले का स्वागत

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ईडी के पांच समन जारी होने के बाद भी पेश नहीं हुए हैं। अब 17 फरवरी को उन्हें कोर्ट में पेश होना है। इस फैसले का हम स्वागत करते हैं। मुख्यमंत्री और उनकी पार्टी के लोग खुद को निर्देश बताते हुए भाजपा को हथियार बनाकर झूठा दोषारोपण कर रहे हैं। अब ईडी के तर्कों पर कोर्ट ने सहमति जताते हुए सीएम को बुलाया है। वहीं, दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा का कहना है कि दिल्ली सरकार की सच्चाई जनता जान चुकी है। दिल्ली सरकार की मंत्री आतिशी लगातार कह रही हैं कि ईडी को एनडी गुप्ता और मुख्यमंत्री के सचिव समेत 12 ठिकानों से छापे में कुछ नहीं मिला है। उन्हें याद होना चाहिए कि वो शराब घोटाले के वक्त भी यही कहती थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें