ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCR8 समन किए दरकिनार, अब क्यों ED के सवालों का सामना करने को तैयार हुए केजरीवाल, AAP ने बताया

8 समन किए दरकिनार, अब क्यों ED के सवालों का सामना करने को तैयार हुए केजरीवाल, AAP ने बताया

अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि वह ईडी के सवालों का जवाब देने के लिए तैयार हैं लेकिन वीडियो कॉन्फ्रेंसिं के जरिए। उन्होंने कहा है कि ईडी चाहे तो उन्हें 12 मार्च के बाद कोई भी तारीख दे सकता है। 

8 समन किए दरकिनार, अब क्यों ED के सवालों का सामना करने को तैयार हुए केजरीवाल, AAP ने बताया
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 04 Mar 2024 03:04 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कथित शराब घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय के 8वें समन को भी दरकिनार कर दिया है। ईडी ने उन्हें समन जारी कर आज यानी सोमवार पेश होने के लिए कहा था लेकिन वह पेश नहीं हुए। हालांकि वह अब ईडी के सवालों का जबाव देने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा है कि वह ईडी के सवालों का जवाब देने के लिए तैयार हैं लेकिन वीडियो कॉन्फ्रेंसिं के जरिए। उन्होंने कहा है कि ईडी चाहे तो उन्हें 12 मार्च के बाद कोई भी तारीख दे सकता है। 

इस बीच अब सलाल ये उठता है कि आखिर 8 समन दरकिनार करने के बाद केजरीवाल ईडी के सवालों का जबाव देने के लिए राजी कैसे हो गए जबकि वह खुद इन समनों को अवैध करार दे चुके हैं। इसका जवाब आम आमदी पार्टी ने दिया है। दिल्ली के मंत्री सौरभ भारद्वाज ने इसका जबाव देते हुए कहा कि "हालांकि ईडी का समन पूरी तरह से अवैध है लेकिन सीएम को लगा कि बीजेपी नेता और प्रवक्ता बार-बार उन पर ईडी के सवालों का जवाब न देने का आरोप लगा रहे हैं।

उन्होंने कहा, हमारी हमेशा से राय थी कि यह सवालों के जवाब देने के बारे में नहीं है, यह  अवैध रूप से अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने की ईडी की मंशा के बारे में है।" इसलिए अरविंद केजरीवाल ने बीच का रास्ता निकाला और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पूछताछ के लिए पेश होने का फैसला किया। लेकिन अगर कोई साजिश है और वे किसी भी कीमत पर सीएम को गिरफ्तार करना चाहते हैं, तो ईडी उन्हें आने के लिए मजबूर करेगी।

उधर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ईडी के सामने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश होने पर बयान दिया है। उन्होंने कहा, मेरा हमेशा से यही रुख रहा है कि ईडी के समन अवैध हैं। मैंने उन्हें (ईडी) कई बार लिखा है लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। मैंने लिखा है कि मैं कुछ भी नहीं छिपा रहा हूं और आपके सभी सवालों का जवाब देने के लिए तैयार हूं और आप वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पूछ सकते हैं। यह मेरा अधिकार है। मेरी तरफ से कोई मांग नहीं है, लेकिन अगर वे चाहें तो (प्रश्न का) सीधा प्रसारण कर सकते हैं।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें