ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली के 118 स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के भविष्य का क्या होगा? CBSE ने लिखा पत्र; क्या है पूरा मामला

दिल्ली के 118 स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के भविष्य का क्या होगा? CBSE ने लिखा पत्र; क्या है पूरा मामला

दिल्ली के 118 स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। इसके लिए सीबीएसई ने शिक्षा निदेशालय को पत्र लिखा है। शिक्षा निदेशालय ने 25 जून तक रिपोर्ट मांगी है।

दिल्ली के 118 स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के भविष्य का क्या होगा? CBSE ने लिखा पत्र; क्या है पूरा मामला
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 11 Jun 2024 02:20 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के 118 सरकारी, सरकारी सहायता प्राप्त और गैर सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों की केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की संबद्धता (एफिलिएशन) खतरे में पड़ती नजर आ रही है। इन स्कूलों ने संबद्धता विस्तार के लिए आवेदन नहीं किया है, जबकि समय सीमा 31 मार्च 2024 को समाप्त हो गई थी। स्कूलों के संबद्धता विस्तार को लेकर सीबीएसई ने शिक्षा निदेशालय के निदेशक को पत्र लिखा है। 

इस संबंध में निदेशालय की परीक्षा शाखा ने सर्कुलर जारी किया है, जिसके अनुसार स्कूलों को संबद्धता विस्तार के लिए 19 सितंबर 2023 तक आवेदन करना था, परंतु स्कूल इस अवसर का लाभ उठाने में विफल रहे। यह स्कूल प्रमुख और परीक्षा प्रभारी की घोर लापरवाही को दर्शाता है। स्कूलों को निर्देश है कि वह 30 जून तक सीबीएसई पोर्टल सरस 5.0 पर जाकर स्कूलों की संबद्धता विस्तार के लिए आवेदन करें।

अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी 

अगर कोई स्कूल तय तारीख तक आवेदन नहीं करता है तो उसके लिए स्कूल प्रमुख और परीक्षा प्रभारी जिम्मेदार होंगे। स्कूलों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। सभी स्कूलों को निर्देश हैं कि वह सीबीएसई संबद्धता की अवधि की जांच करें।

शिक्षा निदेशालय ने 25 जून तक रिपोर्ट मांगी

निदेशालय ने सर्कुलर में यह भी स्पष्ट किया है कि संबद्धता का विस्तार, नई संबद्धता और जुर्माना माफ करने संबंधित मामलों को परीक्षा शाखा द्वारा देखा जाएगा। निदेशालय ने सभी जिलों के उप शिक्षा निदेशकों को 25 जून तक अनुपालन रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।