ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRपश्चिमी दिल्ली से पहली बार महिला बनी सांसद, अनुभवी महाबल मिश्रा को दी मात; जीत के बाद बताया किसपर रहेगा फोकस

पश्चिमी दिल्ली से पहली बार महिला बनी सांसद, अनुभवी महाबल मिश्रा को दी मात; जीत के बाद बताया किसपर रहेगा फोकस

West Delhi Lok Sabha Election 2024 Result: पश्चिमी दिल्ली के लोगों ने पहली बार महिला को अपना सांसद चुना है। बीजेपी की कमलजीत सहरावत ने कड़े मुकाबले में गठबंधन उम्मीदवार महाबल मिश्रा को हराया।

पश्चिमी दिल्ली से पहली बार महिला बनी सांसद, अनुभवी महाबल मिश्रा को दी मात; जीत के बाद बताया किसपर रहेगा फोकस
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 05 Jun 2024 05:48 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी में पश्चिमी दिल्ली सीट पर लोगों ने पहली बार अपने लिए महिला सांसद को चुना है। इस सीट पर चार बार हुए चुनावों में पहली बार महिला सांसद के रूप में भाजपा प्रत्याशी कमलजीत सहरावत ने जीत दर्ज की है। इससे पहले पश्चिमी दिल्ली सीट से दो बार भाजपा से प्रवेश वर्मा जबकि एक बार कांग्रेस से महाबल मिश्रा ने जीत दर्ज की थी।

पश्चिमी दिल्ली सीट पर इस बार भाजपा ने अपने दो बार के सांसद प्रवेश वर्मा का टिकट काटकर निगम में मेयर रही कमलजीत सहरावत को प्रत्याशी बनाया था। परिसीमन के बाद वर्ष 2009 में बनी इस सीट पर पहली बार किसी राष्ट्रीय पार्टी ने महिला प्रत्याशी को उतारा।

दूसरी तरफ इंडिया गठबंधन ने महाबल मिश्रा को अपना प्रत्याशी बनाया था। महाबल मिश्रा इस सीट पर वर्ष 2009 में कांग्रेस की टिकट पर जीत दर्ज कर चुके थे। ऐसे में यह मुकाबला कड़ा होने की संभावना जताई जा रही थी। लेकिन मंगलवार को हुई मतगणना में इस सीट पर मुकाबला एकतरफा देखने को मिला। पहले राउंड से कमलजीत सहरावत ने बढ़त बनाकर रखी और अंत में एक बड़ी जीत दर्ज की।

ग्रामीण क्षेत्र एवं पॉश कॉलोनी से मिली बढ़त 

पश्चिमी दिल्ली की कुल 10 विधानसभा सीटों पर आप पार्टी के विधायक हैं। लेकिन इसके बावजूद लगातार तीसरी बार इस सीट पर भाजपा के प्रत्याशी ने जीत दर्ज की है। पश्चिमी दिल्ली पर एक तरफ जहां नजफगढ़ जैसे ग्रामीण इलाके हैं तो वहीं दूसरी तरफ राजा गार्डन और जनकपुरी जैसे पॉश इलाके हैं। इन जगहों से भाजपा को काफी ज्यादा वोट मिले हैं जिसके चलते जीत दर्ज करने में कमलजीत सहरावत को ज्यादा मुश्किल नहीं हुई।

इलाके में अच्छी पैठ 

महाबल मिश्रा और कमलजीत सहरात की अपने इलाके में अच्छी पैठ है। दोनों नेताओं ने हमेशा जनहित के मुद्दों को उठाया है। इस बार भी कमलजीत इन्हीं मुद्दों को लेकर जनता के बीच गईं।

परिवहन की ज्यादा समस्या

पश्चिम दिल्ली के लोगों का कहना है कि परिवहन व्यवस्था दुरुस्त होनी चाहिए। इसी उम्मीद में उन्होंने कमलजीत को भारी मतों के अंतर से जिताया है। दूसरी ओर कमलजीत ने वादा पूरा करने की बात कही है।

जीत के बाद पांच प्राथमिकताएं बताईं

1. नजफगढ़ से ढांसा बॉर्डर और नांगलोई  तक मेट्रो का विस्तार कराने पर जोर दिया जाएगा, ताकि यात्रियों को अच्छी से अच्छी सुविधा मिल सके
2. सार्वजनिक स्थलों पर सुरक्षा बढ़ाने के लिए सीसीटीवी कैमरों की संख्या बढ़ाई जाएगी
3. छावला गांव में जल्द से जल्द अस्पताल का निर्माण करवाना भी अहम प्राथमिकता है
4. नए कॉलेजों की स्थापना के साथ पश्चिमी दिल्ली में दिल्ली विश्वविद्यालय का कैंपस बनवाने का प्रयास किया जाएगा
5. जहां झुग्गी वहां मकान योजना के तहत गरीबों के लिए आवास का बंदोबस्त कराना भी मेरी प्राथमिकता में शामिल है