DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आश्चर्य : एसयूवी चुराने के लिए सूट-बूट में आते थे बदमाश, ठाठ देख पुलिस भी हैरान

प्रतीकात्मक तस्वीर

पंजाबी बाग पुलिस ने सूट-बूट में आकर एसएयूवी चुराने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से कैब, जैमर, लैपटॉप, मैग्नेटिक चाभियां व दो एसयूवी बरामद हुई हैं। आरोपियों की पहचान दीपक, अंकित एवं रिंकू के तौर पर हुई है।

डीसीपी मोनिका भारद्वाज ने बताया कि पंजाबी बाग में वाहन चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए एसएचओ विनय मलिक के नेतृत्व गठित की गई थी। इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज और सर्विलांस से पता चला कि इलाके में वाहन चोरों का गिरोह सक्रिय है और गिरोह ने इलाके से चुराई गई कई एसयूवी को उत्तम नगर इलाके में रखा है। गिरोह वाहनों को असम भेजेगा। 

'एसोसिएट प्रोफेसर शादी के झांसे में आ जाए, भरोसा नहीं होता'

15 घंटे की निगरानी के बाद सफलता मिली : इस जानकारी पर सोमवार रात को पुलिस की टीम ने सादी वर्दी में एसयूवी पर नजर रखनी शुरू की। करीब 15 घंटे की मेहनत रंग लाई और मंगलवार सुबह एक ओला कैब एसयूवी के पास आकर रुकी और सूट-बूट पहने एक युवक कार से उतरकर वाहन के पास जाने लगा। पुलिस ने एसयूवी में बैठते वक्त ही दीपक नाम के युवक को दबोच लिया। 

यह देखकर ओला चालक वाहन समेत मौके से फरार हो गया। मगर पुलिस ने टायर किलर की सहायता से कैब को रोक लिया। कैब चालक की पहचान अंकित के तौर पर हुई। कैब से लैपऑपप, जैमर, चाभियां एवं बड़ी संख्या में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट बरामद हुईं। बाद में इनकी निशानदेही पर रिंकू नाम के शख्स को भी बुधवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

जैमर साथ में रखते थे

पूछताछ में मालूम हुआ कि ये लोग सूट-बूट में कैब से एसयूवी चुराने जाते थे। गिरोह जैमर की सहायता से वाहन में लगे सुरक्षा उपकरणों को करीब 20 मीटर की दूरी से जाम कर देता था। इसके बाद कार का शीशा तोड़कर नकली चाभी बनाकर वाहन स्टार्ट कर देते थे और फिर असम की नकली हाई सिक्योरिटी नंबरर प्लेट लगाकर उसे असम भेज देते थे। गिरोह पचास से अधिक वाहन चोरी कर चुका है।

यहां डॉलर छुपाकर विदेश जा रहे पिता-पुत्र दिल्ली एयरपोर्ट पर पकड़े

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Vehicle thieves gang busted Three arrested