ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRवर्ल्ड क्लास इंटीग्रेटेड पैसेंजर फैसिलिटी का हब बनेगा ग्रेटर नोएडा का बोड़ाकी, योगी सरकार का बड़ा ऐलान

वर्ल्ड क्लास इंटीग्रेटेड पैसेंजर फैसिलिटी का हब बनेगा ग्रेटर नोएडा का बोड़ाकी, योगी सरकार का बड़ा ऐलान

ISBT in Bodaki: ग्रेटर नोएडा का बोडाकी वर्ल्ड क्लास इंटीग्रेटेड पैसेंजर फैसिलिटी का हब बनेगा। यह हब स्थानीय बस टर्मिनल (एलबीटी) और नोएडा मेट्रो को कनेक्टिविटी प्रदान करेगा। पढ़ें यह रिपोर्ट...

वर्ल्ड क्लास इंटीग्रेटेड पैसेंजर फैसिलिटी का हब बनेगा ग्रेटर नोएडा का बोड़ाकी, योगी सरकार का बड़ा ऐलान
Krishna Singhपीटीआई,नोएडा-लखनऊWed, 10 Jul 2024 09:07 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार ने बुधवार को बताया कि वह ग्रेटर नोएडा के बोड़ाकी में अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल (आईएसबीटी) के विकास पर काम कर रही है, ताकि एक वर्ल्ड क्लास इंटीग्रेटेड पैसेंजर फैसिलिटी को साकार किया जा सके। यह हब स्थानीय बस टर्मिनल (एलबीटी) और नोएडा मेट्रो को कनेक्टिविटी प्रदान करेगा। यह परियोजना उत्तर प्रदेश में मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब स्थापित करने की व्यापक योजना का हिस्सा है। यह दिल्ली-हावड़ा रेल लाइन पर स्थित होगा। यह एनएच-91 से जुड़ेगा, जिससे रेलवे, राजमार्ग, बस और मेट्रो सेवाएं एकीकृत होंगी।

सरकार ने कहा कि 358 एकड़ में फैली इस परियोजना में इंटर स्टेट बस टर्मिनल (आईएसबीटी) और लोकल बस टर्मिनल (एलबीटी) के विकास के लिए डीपीआर नेशनल इंडस्ट्रियल कॉरीडोर डेवलपमेंट कॉपोर्रेशन (एनआईसीडीसी) की ओर से तैयार कर ली गई है। यही नहीं परियोजना के सर्वेक्षण, डिजाइन, मास्टर प्लानिंग और ईपीसी (इंजीनियरिंग, खरीद और निर्माण) दस्तावेजों की तैयारी के लिए सामान्य सलाहकार नियुक्त कर दिए गए हैं।

राज्य सरकार ने कहा कि रेलवे के बुनियादी ढांचे और व्यावसायिक केंद्रों के विकास पर भी ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। इस परियोजना में उत्तर मध्य रेलवे महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। वह यात्री टर्मिनल, स्टेशन भवन, प्लेटफॉर्म, मेंटिनेंस यार्ड, ट्रैक और स्टाफ क्वार्टर का निर्माण कर रहा है। परियोजना को साकार करने के लिए रेल ओवर ब्रिज और अंडरपास के निर्माण की भी योजना है। नोएडा मेट्रो की एक्वा लाइन को डिपो स्टेशन तक बढ़ाया जा रहा है।

राज्य सरकार ने कहा कि बोड़ाकी मल्टी मोडल ट्रांसपोर्ट हब को एनएच-91 से जोड़ने के लिए 105 मीटर की मुख्य सड़क और बोड़ाकी को एनएच-91 से जोड़ने वाली 60 मीटर की सड़क का निर्माण भी किया जा रहा है। इसमें ग्रेटर नोएडा में एनएच-91 के ऊपर रेल ओवर ब्रिज और सेक्टर लैंब्डा में फ्लाईओवर का निर्माण भी शामिल है। इन कार्यों का प्रबंधन उत्तर प्रदेश ब्रिज कॉरपोरेशन द्वारा किया जाएगा। इस क्षेत्र को एक कमर्शियल हब के रूप में विकसित किया जा रहा है। इसमें ऑफिस स्पेस, रीटेल सेंटर्स, होटल, शॉपिंग मॉल एवं मल्टी लेवल पार्किंग सुविधाओं के निर्माण की भी योजना है।