DA Image
1 अप्रैल, 2020|10:39|IST

अगली स्टोरी

कोरोना से जंग में मिली जीत, जिम्स से स्वस्थ होकर घर लौटे दो और मरीज

coronavirus  ht file photo

नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) से गुरुवार को कोरोना वायरस पॉजिटिव दो और मरीज ठीक होकर घर चले गए। सही हुए इन मरीजों में एक एमबीबीएस की छात्रा है और दूसरा मरीज सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। दोनों विदेश से लौटे थे। हालांकि, अभी दोनों ही घर पर 14 दिन तक क्वारंटाइन रहेंगे। दोनों मरीजों ने डॉक्टरों का शुक्रिया अदा किया।

संस्थान के निदेशक बिग्रेडियर डॉ. राकेश गुप्ता ने कहा कि संस्थान के डॉक्टरों व स्टाफ की मेहनत का नतीजा है कि हम अब तक तीन मरीजों को ठीक करके भेज चुके हैं। राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान में 10 मरीज भर्ती हैं। इसमें से तीन मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। इसमें एक मरीज बुधवार को घर भेज दिया गया था जबकि दो मरीजों को गुरुवार को घर भेजा गया है। निदेशक डॉ. गुप्ता ने बताया कि दोनों मरीजों की दो बार जांच कराई गई। दोनों बार कोरोना नेगेटिव पाया गया है इसलिए दोनों को घर भेज दिया गया है। दोनों से कहा गया है कि वे 14 दिन तक घर पर ही क्वारंटाइन रहेंगे।

किताबें पढ़कर और टीवी देखकर बिताया समय : जार्जिया में एमबीबीएस की पढ़ाई करने वाली युवती ने बताया कि वह फ्रांस गई थी। वहां से 12 मार्च को वापस आई। दिक्कत आने पर जिम्स में जांच कराई तो कोरोना पॉजिटिव पाई गई। 15 मार्च को यहां भर्ती हुई थी। यहां पर बेहतर सुविधाएं मिलीं। यहां अस्पताल में किताबें पढ़कर, टीवी देखकर और मोबाइल में गेम खेलकर समय बिताया।

अस्पताल में बेहतर इलाज मिला : सॉफ्टवेयर इंजीनियर फरवरी के आखिरी सप्ताह में ऑफिस टूर से इंडोनेशिया गए थे। वे दो मार्च को वापस आ गए। 16 दिन तक घर पर क्वारंटाइन रहे। बाहर से आने के कारण कोरोना टेस्ट कराया तो पॉजिटिव निकला। इसके बाद 18 मार्च को भर्ती हुए। डॉक्टरों ने पूरा सपोर्ट किया। डॉक्टरों ने केयर की, यही कारण है कि आज यहां से स्वस्थ होकर जा रहे हैं। किताबें पढ़कर और टीवी देखकर समय बिताया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:two more patients won fight against Coronavirus and return home healthy