DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › गोगी शूटआउटः दो गिरफ्तार, पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने रोहिणी कोर्ट का किया दौरा
एनसीआर

गोगी शूटआउटः दो गिरफ्तार, पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने रोहिणी कोर्ट का किया दौरा

हिन्दुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीPublished By: Gaurav Kala
Mon, 27 Sep 2021 05:05 PM
गोगी शूटआउटः दो गिरफ्तार, पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने रोहिणी कोर्ट का किया दौरा

दिल्ली पुलिस ने रोहिणी जिला कोर्ट के अंदर हुए गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ ​गोगी शूटआउट में दो संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया है।  इस शूटआउट में तीन लोगों की मौत हुई थी। आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने घटनास्थल का दौरा किया है। हालांकि मीडिया से कोई बात नहीं की। 

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने रविवार को गोगी शूटआउट में उमंग यादव और विनय मोटा को गिरफ्तार किया है। पहले दोनों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था। घटनाक्रम की जानकारी देते हुए दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि बीते शुक्रवार को रोहिणी अदालत परिसर में एक कमरे के अंदर कुछ बदमाश वकील के वेश में आए थे और गोगी को गोली मारकर चले गए। मामले में पुलिस ने दोनों आरोपियों की निशानदेही पर वारदात में इस्तेमाल हुई कार को जब्त किया है। अदालत परिसर के सीसीटीवी फुटेज के आधार पर विशेष प्रकोष्ठ ने उमंग और मोटा को हैदरपुर में उमंग के घर से हिरासत में लिया गया। 

जांचकर्ताओं का ये भी कहना है कि हमलावरों ने गोगी की हत्या करने के बाद जज के सामने आत्मसमर्पण करने की योजना बनाई थी, लेकिन इससे पहले कि वे जज की सीट की ओर बढ़ते, गोगी के साथ अदालत में जाने वाले सुरक्षा कर्मियों ने इस आशंका में उन्हें मार गिराया कि कहीं वे जज को नुकसान न पहुंचा दे। जांचकर्ताओं का कहना है कि मामले में अभी जांच जारी है। परत दर परत जांच से कई और बातें सामने आएंगी। 

आयुक्त (अपराध) आलोक कुमार ने कहा "हमें अब तक उनकी पुलिस रिमांड नहीं मिली है, कोर्ट से हमे अगर उनकी रिमांड मिलती है तो उनसे मामले में लंबी पूछताछ की जाएगी।" पुलिस को संदेह है कि गोगी के मुख्य प्रतिद्वंद्वी गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया ने उसे खत्म करने की योजना बनाई थी। टिल्लू फिलहाल मंडोली जय में बंद है।

जांचकर्ताओं के पास टिल्लू गैंग का एक कथित सदस्य नरेश कुमार उर्फ​​सोनू की भी जानकारी है, जो शूट-आउट योजना में शामिल था। उसी ने उमंग को अपने साथ लिया और दोनों हमलावरों - राहुल त्यागी और जगदीप जग्गा  को कोर्ट में लाने के लिए कहा।

पूछताछ के दौरान उमंग ने पुलिस को बताया कि त्यागी और जग्गा उसके संपर्क में थे। हालांकि उन्हें एक कार में बाहर इंतजार करने के लिए कहा गया था, तीन लोगों - त्यागी, जग्गा और एक अन्य (अज्ञात) को कोर्ट के अंदर जाना था और गोगी को मारना था। 

हालांकि, तीसरे व्यक्ति के लिए वकील की पोशाक की व्यवस्था नहीं हो सकी तो केवल त्यागी और जग्गा ही कोर्ट रूम में दाखिल हुए, जहां उन्होंने गोगी को गोली मारी। बता दें कि बीते शुक्रवार को दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में वकील के वेश में दो बदमाशों ने गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ​​गोगी को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया था। इस घटना में मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने दोनों बदमाशों को मौके पर ढेर कर दिया था।

संबंधित खबरें