ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRबदला लेने को देवी-देवताओं की आपत्तिजनक तस्वीरें करता था शेयर, पुलिस ने युवक को हरिद्वार से किया गिरफ्तार

बदला लेने को देवी-देवताओं की आपत्तिजनक तस्वीरें करता था शेयर, पुलिस ने युवक को हरिद्वार से किया गिरफ्तार

हिंदू देवी-देवताओं का अनादर करने और उनकी आपत्तिजनक तस्वीरें ऑनलाइन बेचने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने हरिद्वार से एक युवक को गिरफ्तार किया है। आरोपी बदला लेने को ऐसा कर रहा था।

बदला लेने को देवी-देवताओं की आपत्तिजनक तस्वीरें करता था शेयर, पुलिस ने युवक को हरिद्वार से किया गिरफ्तार
Sneha Baluniभाषा,नई दिल्लीSat, 04 Nov 2023 07:09 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली पुलिस ने हिंदू देवी-देवताओं का अनादर करने तथा उनकी आपत्तिजनक तस्वीरें ऑनलाइन बेचने के आरोप में शुक्रवार को 21 वर्षीय एक युवक को गिरफ्तार किया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। एक अन्य व्यक्ति ने आरोपी की वेबसाइट की नकल की थी जिसका बदला लेने के लिए आरोपी उसके नाम पर अश्लील तस्वीरें बेच रहा था।

पुलिस उपायुक्त (आईएफएसओ) हेमंत तिवारी ने कहा, 'आरोपी आदर्श सैनी को गिरफ्तार कर लिया गया है जिसने बदला लेने के लिए यह सब किया। एक अन्य व्यक्ति ने आरोपी की वेबसाइट से मिलती-जुलती एक वेबसाइट बना ली थी जिससे उसे आर्थिक घाटा हुआ था।' सैनी ने कथित तौर पर दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) सहित विभिन्न कानून-प्रवर्तन एजेंसियों के साथ शिकायत दर्ज करने के लिए एक ईमेल भी बनाया था जिससे आपत्तिजनक तस्वीरों को बेचने वाले व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई थी।

उपायुक्त ने कहा,'दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) से 29 अक्टूबर को शिकायत मिलने के बाद दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ की आईएफएसओ (इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस) इकाई ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 295 और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था।'

उपायुक्त तिवारी ने बताया कि इस मामले में सहायक पुलिस आयुक्त स्तर के एक अधिकारी की निगरानी में विस्तृत जांच की गई। प्रारंभिक जांच में राहुल कुमार नाम के एक व्यक्ति के शामिल होने का पता चला। उन्होंने कहा, 'हमने बिहार के दरभंगा में राहुल कुमार का पता लगाया लेकिन पूछताछ करने पर इस मामले में उसकी भूमिका नहीं मिली। हमने मामले की आगे जांच की और आदर्श सैनी को हरिद्वार से पकड़ा।'

सैनी ने पूछताछ में बताया कि उसने बीबीए पूरी करने बाद ऑनलाइन गेमिंग से जुड़ा व्यापार शुरू किया था। उपायुक्त ने कहा, 'सैनी ने एक वेबसाइट बनाई और वह उसपर ग्राहकों को गेमिंग आईडी उपलब्ध कराता था जो उसकी आय का मुख्य स्त्रोत था। वहीं, कुमार ने भी सैनी की वेबसाइट से मिलती जुलती एक वेबसाइट बनाई जिससे सैनी को आर्थिक घाटा हुआ। इसके बाद उसने कुमार से बदला लेने का निर्णय किया।'

उन्होंने कहा कि सैनी ने कथित तौर पर कुमार को फर्जी मामले में फंसाने की साजिश रची थी। उसने सभी विवरण एकत्रित किए और कुमार के नाम का इस्तेमाल करते हुए आपत्तिजनक सामग्री ऑनलाइन बेचने लगा। तिवारी ने कहा, 'सैनी के पास से एक लैपटॉप, दो मोबाइल फोन बरामद किए गए हैं जिनमें सभी आपत्तिजनक तस्वीरें और सामग्री थी। उसके घर से ऑनलाइन आपराधिक गतिविधियों के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला वाई-फाई राउटर भी बरामद किया गया है। हमने सैनी को पुलिस हिरासत में ले लिया है और मामले में आगे की जांच जारी है।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें