Three women beaten by mob in suspect of child theft in ghaziabad - अफवाह से आफत : पोते के साथ जा रही दादी सहित 3 महिलाओं को भीड़ ने बच्चा चोर समझकर पीटा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अफवाह से आफत : पोते के साथ जा रही दादी सहित 3 महिलाओं को भीड़ ने बच्चा चोर समझकर पीटा

पोते के साथ खरीददारी के लिए लोनी बाजार गई महिला को लोगों ने बच्चा चोर समझकर पकड़ लिया तथा उसके साथ मारपीट की। इसके बाद लोगों ने पुलिस को मौके पर बुलाकर महिला एवं बच्चे को पुलिस के सुपुर्द कर दिया। पुलिस ने महिला से पूछताछ की तो बच्चा उसका पोता निकला। पुलिस ने 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

मंगलवार दोपहर करीब एक बजे 50 वर्षीय महिला अपने डेढ़ वर्षीय पोते के साथ लोनी के मेन बाजार में खरीददारी के लिए आई थी। रामलीला ग्राउंड में कुछ लोगों ने महिला को बच्चा चोर समझकर शोर मचा दिया। मौके पर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई तथा कुछ लोगों ने महिला से हाथापाई करते हुए पूछताछ शुरू कर दी, लेकिन महिला इतनी घबरा गई कि वह अपना नाम पता भी ठीक से नही बता पाई। लोगों ने एक पुलिसकर्मी को मौके पर बुला लिया और फिर महिला को उसके साथ लोनी थाने ले गए। थाने पहुंचने के बाद पुलिस ने महिला से पूछताछ की तो उसने अपना, पोते एवं अन्य परिजनों के नाम तो पुलिस को स्पष्ट बता दिए, लेकिन घर का पता ठीक से नही बता पाई।

पुलिस ने जांच के बाद महिला को उसके घर पहुंचवा दिया। एसपी देहात नीरज कुमार जादौन का कहना है कि लोगों ने बिना जांच व सबूत के ही महिला को बच्चा चोर समझ आघात पहुंचाया। ऐसे लोगों को चिहिन्त कर उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। महिला लोनी सीमा से सटी जौहरीपुर की रहने वाली है। उसे घर पहुंचा दिया गया है।

मोहल्ले में घूमते समय लोगों ने घेरा

गाजियाबाद। राहुल विहार वार्ड दो में नागरिकों ने मंगलवार सुबह एक महिला को बच्चा चोर बताकर पिटाई कर दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ की। साथ ही इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया।

पुलिस के मुताबिक, महिला दिमागी रूप से कमजोर है। वह मोहल्ले में घूम रही थी, इसी दौरान स्थानीय लोगों ने उसे बच्चा चोर बताते हुए पकड़ लिया और पुलिस को सूचना दी। पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले कुछ लोगों ने महिला की पिटाई भी कर दी। पुलिस के मुताबिक महिला को भीड़ से बचाकर पूछताछ की गई, लेकिन वह डर से अपना नाम तक ठीक से नहीं बता पा रही है। पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया है। उधर, गाजियाबाद पुलिस ने एक बार फिर दावा किया है कि जिले में कहीं कोई महिला चोर नहीं है।

मां-बेटे को ही पकड़कर पुलिस बुलाई

लोनी। मंगलवार शाम लोनी थाना क्षेत्र की आर्य नगर कॉलोनी में स्टेट बैंक के सामने कुछ लोगों ने बेटे को गोद में लेकर जा रही महिला को बच्चा चोर समझ कर पकड़ लिया और मारपीट पर उतर आए। लोगों ने 100 नंबर पर फोन पुलिस बुला ली। पुलिस ने पूछताछ में मां-बेटे का मामला सामने आने पर महिला को उसके घर भेज दिया। मंगलवार शाम करीब 5:30 बजे एक महिला स्टेट बैंक के सामने दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर अपने बेटे को गोद में लेकर तेज कदमों से जा रही थी। इसपर लोगों को शक हुआ। महिला को रोककर बिना कुछ पूछे उससे मारपीट करने लगे।

अफवाह से अभिवावकों में डर

गाजियाबाद समेत देशभर से बच्चा चोर गैंग की खबरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इन अफवाह के चलते कई जगह जहां बेकसूर लोगों के साथ मारपीट की घटनाएं हो चुकी हैं, वहीं अभिभावकों में भी अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर डर हो है। गाजियाबाद में ही बीते छह दिन में पांच लोगों के साथ इस तरह से मारपीट की घटना हो चुकी है।

जागरूकता अभियान शुरू

बच्चा चोर गिरोह की अफवाह में आए दिन हो रही मारपीट की घटनाओं को देखते हुए पुलिस ने जागरूकता अभियान शुरू किया है। सोशल मीडिया पर पुलिस ने इस संबंध में एक एडवाइजरी जारी की है। बताया है कि अब तक मिली बच्चा चोरी की सभी सूचनाएं अफवाह निकली है। अब तक एक भी मामला दर्ज नहीं किया गया है।

''अफवाह फैलाकर लोगों की पिटाई गंभीर मामला है। पुलिस का प्रयास है कि कोई बेकसूर व्यक्ति भीड़ का शिकार न बने। इसके लिए फील्ड यूनिट के साथ सोशल मीडिया के जरिए भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है।'' -नीरज कुमार जादौन, पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण)

क्या करें, क्या ना करें

  • यदि कोई संदिग्ध दिखे तो पहले ठीक तरह से पड़ताल कर लें
  • कानून हाथ में लेने के बजाय पुलिस को सूचना दें
  • भीड़ को उकसाने में शरारती तत्वों का हाथ हो सकता है
  • बच्चा चोरी के आरोप में भीड़ किसी की पिटाई करे तो पुलिस को सूचित करें 
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Three women beaten by mob in suspect of child theft in ghaziabad